स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बाढ़ से बेहाल बस्तर, दर्जन से ज्यादा बह गए घर, बचना है तो कर ले तैयारी

Bhupesh Tripathi

Publish: Jul 30, 2019 17:10 PM | Updated: Jul 30, 2019 17:10 PM

Sukma

Flood in sukma: शहर के ड्रेनेज सिस्टम की खुली पोल, सुबह से शाम तक सड़कें रही जलमग्न
* 24 घंटे में बस्तर जिले में 231 मिमी बारिश, शहर के निचले इलाकों में भरा पानी

जगदलपुर। बस्तर जिले में पिछले 24 घंटे में हुई बारिश ने जन जीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है। लगातार हो रही बारिश की वजह से जिले के कई इलाकों में बाढ़ के हालात बन चुके हैं। शहर में रविवार रात बारिश की रफ्तार बढ़ी और सुबह जब लोग जागे तो घरों के बाहर घुटने तक पानी भरा था। कई इलाकों में सुबह 5 बजे घरों के भीतर भी पानी पहुंच गया। सन सिटी से लगी हाऊसिंग बोर्ड कॉलोनी में बारिश का पानी लोगों के लिए इस कदर परेशानी का सबब बना कि लोग खुद को अपने ही घर में जेल में कैद महसूस करने लगे।

 

flood

चावल घोटाले पर मंत्री से लेकर अधिकारी तक की आँखे बंद, राज्योत्सव में हुआ था 108 क्विंटल का घपला

घर के बाहर एक रात में इतना ज्यादा पानी देखकर रहवासी दहशत में आ गए। स्कूलों के लिए जिला प्रशासन ने छुट्टी की घोषणा कर दी थी। तो वहीं इन कॉलोनियों में रहने वाले बड़ों ने घर में पानी भरने की वजह से ऑफिस नहीं जाना ही मुनासिब समझा। पार्किंग में भी आधी गाडिय़ां डूब चुकी थीं। इसी तरह के हालात इस कॉलोनी से लगे स्टेट बैंक कॉलोनी और सन सिटी में भी दिखाई दिए। शहर में 24 घंटे की बारिश ने ड्रेनेज सिस्टम की पोल भी खोल दी। शहर के मुख्य मार्गों पर पानी भर गया।

jagdalpur cityriver

जान हथेली पर रख बाढ़ से बचने ग्रामीण ऐसे लगा रहे नय्या पार

मेडिकल कॉलेज पहुंचना हो गया मुश्किल, मरीज परेशान
पंडरीपानी से आगे बढऩे पर डिमरापाल मेडिकल कॉलेज से पहले खेतों में जमा पानी ओवर फ्लो होने लगा। वहां करीब से एक छोटा नाला भी गुजरता है। इस वजह से पानी सड़क पर आ गया और पूरा रास्ता करीब 4 घंटे के लिए बाधित हो गया। सुबह 8 बजे रास्ता जाम हुआ। दोपहर 12 बजे तक गाडिय़ां आगे नहीं बढ़ीं। महारानी अस्पताल से रेफर मरीजों को एंबुलेंस से मेडिकल कॉलेज नहीं पहुंचाया जा सका। बाइक वाले परपा और पंडरीपानी के अंदर के रास्तों से होते हुए मेडिकल कॉलेज पहुंचे।

home

रातभर में दर्जनभर से ज्यादा मकान ढहे
रविवार रात बारिश की रफ्तार बढ़ी तो शहर के दर्जनभर से ज्यादा जर्जर और कच्चे मकानों के ढहने की खबर सोमवार सुबह सामने आई। शहर के जैन मंदिर रोड स्थित एक दो मंजिला मकान ढह गया। इसी तरह कुम्हड़ाकोट में एक कच्चे मकान की दीवार ढह गई। इसी तरह कई जगहों पर दर्जनभर से ज्यादा मकान बारिश की वजह से प्रभावित हुए। हालांकि इसमें किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

Click & read Chhattisgarh flood in Sukma .