स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जाटलैंड में आमने-सामने होंगे मोदी व हुड्डा, इस दिन करेंगे रैलियों को संबोधित

Prateek Saini

Publish: May 05, 2019 15:51 PM | Updated: May 05, 2019 15:51 PM

Sonipat

हुड्डा का गढ़ है दोनों सीटें...

(सोनीपत,संजीव शर्मा): हरियाणा में लोकसभा चुनाव प्रचार के आखिरी दिन जाटलैंड यानी रोहतक व सोनीपत संसदीय क्षेत्र में राजनीतिक पारा उफान पर रहने वाला है। यह पहला मौका होगा जब पीएम नरेंद्र मोदी और हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा आमने-सामने होंगे। भाजपा ने 10 को मोदी की रोहतक में रैली रखी है। इसी दिन रोहतक से कांग्रेस उम्मीदवार दीपेंद्र सिंह हुड्डा भी रैली करना चाहते थे लेकिन वे प्रशासन ने समय पूर्व अनुमति नहीं ले सके।

 

रोहतक की जगह सोनीपत में हुड्डा की रैली

ऐसे में अब कांग्रेस ने 10 को ही सोनीपत के गोहाना में रैली करने का फैसला लिया है। इस रैली में पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा मुख्य वक्ता होंगे। यह रैली दोनों संसदीय क्षेत्रों–सोनीपत व रोहतक के वर्करों की होगी। वहीं सत्तारूढ़ भाजपा ने भी मोदी के कार्यक्रमों में बदलाव करते हुए अब तीन रैलियों के जरिये राज्य के 10 में से सात लोकसभा क्षेत्रों को कवर करने की रणनीति बना डाली है।


मोदी की रैली से दो सीटों को साध रही बीजेपी, दिग्विजय ने रोचक बनाया मुकाबला

पीएम मोदी 10 मई को रोहतक में जो रैली करेंगे, वह सोनीपत और रोहतक संसदीय क्षेत्र की इकट्ठी होगी। रोहतक में दीपेंद्र के मुकाबले भाजपा ने पूर्व सांसद डॉ़ अरविंद शर्मा को मैदान में उतारा हुआ है। सोनीपत की सीट पर खुद हुड्डा कांग्रेस प्रत्याशी हैं। यहां से भाजपा ने अपने मौजूदा सांसद रमेश चंद्र कौशिक पर ही दाव खेला है। जेजेपी के दिग्विजय सिंह चौटाला के मैदान में होने की वजह से सोनीपत की सीट पर सभी की नजरें लगी हैं।

 

8 मई को हिसार व सिरसा के लिए रैली

मोदी रोहतक से पहले 8 मई को प्रदेश में दो रैलियां करेंगे। वे पहले हिसार व सिरसा संसदीय क्षेत्रों की इकट्ठी रैली को फतेहाबाद में सम्बोधित करेंगे। हिसार से पार्टी ने केंद्रीय मंत्री चौ़ बीरेंद्र सिंह के आईएएस बेटे बृजेंद्र सिंह और सोनीपत से आईआरएस अधिकारी रहीं सुनीता दुग्गल को टिकट दिया हुआ है। सिरसा में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष डॉ़ अशोक तंवर मैदान में डटे हैं तो हिसार में त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिल रहा है।

 

यहां से मौजूदा सांसद एवं जेजेपी नेता दुष्यंत सिंह चौटाला फिर से मैदान में हैं। वही कांग्रेस ने दिवंगत सीएम चौ़ भजनलाल के पोते भव्य बिश्नोई को मैदान में उतारा है। माना जा रहा है कि इन दोनों सीटों पर बनी कशमकश को देखते हुए भाजपा ने पीएम मोदी की इकट्ठी रैली का निर्णय लिया है। 8 को ही मोदी कुरुक्षेत्र के थीम पार्क में रैली करके पूरी जीटी रोड बैल्ट को साधने की कोशिश करेंगे। इस रैली में कुरुक्षेत्र के अलावा करनाल व अंबाला लोस क्षेत्र के लोग भी शामिल होंगे।

 

हुड्डा का गढ़ है दोनों सीटें

जाटलैंड के इन दोनों संसदीय क्षेत्रों – सोनीपत व रोहतक को पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा का गढ़ माना जाता है। 2014 में मोदी की सुनामी के बावजूद रोहतक से दीपेंद्र हुड्डा जीत की हैट्रिक बनाने में सफल रहे थे। सोनीपत जिला की छह विधानसभा सीटों में से अब भी कांग्रेस के पास पांच सीटें हैं। केवल सोनीपत सिटी से कविता जैन लगातार दूसरी बार भाजपा टिकट पर चुनाव जीतने में सफल रहीं। शायद, यही कारण हैं कि हुड्डा अन्य जिलों में पार्टी के दूसरे उम्मीदवारों के लिए प्रचार करने का समय भी निकाल पा रहे हैं। कांग्रेस के बाकी दिग्गज अपने-अपने इलाकों में ही फंसे हुए हैं।