स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

भूपेन्द्र हुड्डा ने माना-"मोदी लहर के चलते हुई हार", विधानसभा चुनावों में लहर न होने का भरोसा भी जताया

Prateek Saini

Publish: Jun 03, 2019 19:23 PM | Updated: Jun 03, 2019 19:23 PM

Sonipat

हुड्डा ने रोहतक में पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि...

(सोनीपत,रोहतक): हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने यह माना कि हाल में सोनीपत लोकसभा सीट से वे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पक्ष में चल रही लहर के कारण चुनाव हारे, लेकिन विधानसभा चुनाव में इस तरह की कोई लहर नहीं होगी।


हुड्डा ने रोहतक में पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि उन्हें विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुट जाना चाहिए। सोनीपत लोकसभा सीट पर हुड्डा करीब डेढ़ लाख वोटों से हार गए थे। हुड्डा ने कहा कि हम एक लडाई हारे हैं और लडाई जारी है। कार्यकर्ता लोकसभा चुनाव में हार से निराश न हों। हार और जीत राजनीतिक जीवन का हिस्सा है। उन्होंने कहा कि यदि मोदी लहर नहीं होती तो कार्यकर्ता उनकी जीत तय कर देते। यह मोदी लहर दिल्ली के लिए थी, चंडीगढ़ के लिए नही। लोगों को पिछले पांच साल के भाजपा सरकार के कमजोर शासन की जानकारी है।

 

रोहतक लोकसभा क्षेत्र में मतदान केन्द्र पर कब्जे की शिकायत के बारे में हुड्डा ने कहा कि यदि यह उनकी कैबिनेट के सदस्य ने ऐसा किया होता, तो वे उसे तुरंत निलंबित कर देते। यह बडी शर्मनाक बात है कि भाजपा सरकार के एक मंत्री ने आदर्श आचार संहिता का खुला उल्लंघन किया। न तो राज्य सरकार और न ही मुख्यमंत्री ने मंत्री के खिलाफ कोई कार्रवाई की है। हुड्डा ने पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला द्वारा मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर पर की गई टिप्पणियों की निंदा करते हुए कहा कि राजनीतिक दलों के नेताओं को एक दूसरे के खिलाफ गैर जिम्मेदाराना टिप्पणियां नहीं करना चाहिए।