स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इराक में मारे गए सीवान के पांचों युव​कों की अंत्येष्टि संपन्न

Prateek Saini

Publish: Apr 03, 2018 17:49 PM | Updated: Apr 03, 2018 17:49 PM

Siwan

पांच जनों के शवों की अंत्येष्टि उनके पैतृक स्थलों पर संपन्न हो गई ।

(सीवान) : इराक के मोसुल में मारे गये जिले के पांच जनों के शवों की अंत्येष्टि उनके पैतृक स्थलों पर संपन्न हो गई ।सभी मृतकों के शव सोमवार को केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह विशेष विमान से लेकर पटना आए थे। शवों को उनके परिजनों के हवाले कर उनके पैतृक गांव भिजवा दिया गया था। बेहद गमगीन माहौल में शवों को गांव ले जाया गया। राज्य सरकार की ओर से जिलाधिकारी ने सभी पांच जनों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपए के मुआवजे के चेक सौंपे।

जिलाधिकारी के समझाने पर शव लेने को माने परिजन

मृतक विद्याभूषण तिवारी और सुनील कुमार कुशवाहा के परिजन यह कहते हुए शव लेने को तैयार नहीं हो रहे थे कि उनके घरों का इकलौता कमाऊ व्यक्ति अब नहीं रहा।परिवार के भरण-पोषण के इंतजाम सरकार करे।जिलाधिकारी ने उनकी बात राज्य सरकार तक पहुंचा देने और अधिक कारगर सहायता दिलवाने की बातें समझा बुझाकर परिजनों को शांत कराया और सहायता राशि के साथ शवों को ले जाने के लिए राजी करवाया।

बिहार के ये युवक मोसुल में मारे गए -

.संतोष कुमार सिंह, ग्राम-सहसरांव टोला, थाना-आसाव अंचल,सिवान. विद्याभूषण
तिवारी, आंदर,सिवान
.अदालत सिंह,सिसवां खुर्द,मैरवा, सिवान
. धर्मेंद्र कुमार, मैरवा टोला हरपुर,मैरवा, सिवान
.सुनील कुमार कुशवाहा, सिंचाई कौलोनी,मैरवा, सिवान


यह था इराक (मोसुल ) मामला

इराक के मोसुल में काम के लिए गए भारतीयों को आइएसआइ के आतंकवादियों ने मौत के घाट उतार दिया था। 39 भारतीयों के मरने की बात का खंडन केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने किया संसद में किया था। इन सभी में से 38 लोगों का डीएनए मैच हो गया था और एक के डीएनए मैच करने का काम चल रहा है। यह बात सामने आने के बाद केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री वी के सिंह को यह शव भारत लेकर आने की जिम्मेदारी दी गई। वी के सिंह इन सभी शवों को विशेष विमान से लेकर सोमवार को भारत पहुंचे थे।