स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कावड़ियों के डीजे बंद कराने को लेकर बढ़ा विवाद, पुलिसवालों को जमकर पीटा, मौके पर पहुंची कई थानों की पुलिस

Nitin Srivastva

Publish: Aug 13, 2019 15:03 PM | Updated: Aug 13, 2019 15:02 PM

Sitapur

कावड़िया (Kanwariya) गोल गोकर्णनाथ से वापस अपने गांव आ रहे थे...

सीतापुर . देर रात कावड़ियों (Kanwariya) के डीजे बंद कराने को लेकर हुए विवाद के मामले ने तूल पकड़ लिया। दरअसल कावड़ियों के खिलाफ की गयी कार्रवाई से नाराज होकर इलाके के एक प्रसिद्ध बाबा स्थानीय लोगों के साथ मिलकर धरने पर बैठ गए। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी लोगों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन इसी दौरान भीड़ उग्र हो गई और पुलिस पर पथराव करते हुए गांव से खदेड़ दिया। उग्र भीड़ ने इस दौरान एक सिपाही को बुरी तरह पीटा और पुलिस की गाड़ी भी क्षतिग्रस्त कर दी। घटना के बाद आलाधिकारी कई थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और स्थिति सामान्य करने में जुटे।

 

उग्र भीड़ ने किया पुलिस पर पथराव

मामला रामपुरमथुरा थाना क्षेत्र के मितौरा गांव का है। यहां सोमवार देर रात तकरीबन 2 बजे कावड़िया गोल गोकर्णनाथ से वापस अपने गांव आ रहे थे। इसी दौरान बीच रास्ते में विशेष समुदाय के लोगों ने जबरन डीजे बंद कराने का प्रयास किया। जिससे दोनों पक्ष आमने सामने आ गए और दोनो पक्षों में मारपीट हुई। इस मारपीट के दौरान एक दर्जन लोग घायल हो गए। घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने केस दर्ज कर दोनों पक्षों के उपद्रवी लोगों को गिरफ्तार कर लिया और घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। जहां एक कावड़िया की हालत बिगड़ते ही उसे इलाज एक लिए बाराबंकी रेफर कर दिया गया।

 

यह भी पढ़ें: मुलायम-अखिलेश के खिलाफ CBI जांच को लेकर बड़ी खबर, सुप्रीम कोर्ट से फिर बढ़ेगी मुसीबत

 

कई थानों की फोर्स के साथ पुलिस ने की कार्रवाई

कावड़ियों के खिलाफ हुई कार्रवाई को लेकर इलाके के एक प्रसिद्ध बाबा स्थानीय लोगों के साथ धरने पर बैठ गए। जिसके परिणामस्वरूप पुलिस ने उन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन उग्र ने भीड़ ने पुलिस पर ही पथराव कर दिया। जिसमें एक सिपाही को चोट आयी और पुलिस की गाड़ी भी क्षतिग्रस्त हो गई घटना के बाद कई थानों की फोर्स के साथ भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा और हालात सामान्य करने में जुटी। पुलिस ने केस दर्ज कर दोनों पक्षों के उपद्रवी लोगों को गिरफ्तार कर लिया और घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया।

 

यह भी पढ़ें: हमारे आपके कपड़े भले ही रोज धुलते हों, मगर रोज नहीं धुली जाती भगवान राम की पोशाक, हैरान करने वाला खुलासा