स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

विधुत विभाग की लापरवाही से उजड़ी दो परिवारों की खुशियां, त्यौहार के दिन घरों में छाया मातम का माहौल, मचा कोहराम

Nitin Srivastva

Publish: Aug 14, 2019 22:13 PM | Updated: Aug 14, 2019 22:13 PM

Sitapur

विधुत विभाग की लापरवाही से उजड़ी दो परिवारों की खुशियां, त्यौहार के दिन घरों में छाया मातम का माहौल

सीतापुर. हाईटेशन लाइन के तार की चपेट में आने से ट्रॉली पर खड़े दो युवकों की मौके पर ही मौत हो गयी। हादसा उस वक़्त हुआ जब ट्रैक्टर-ट्रॉली ईंटों को लादकर मजदूरों के साथ निर्माण स्थान पर जा रही थी। इसी दौरान ईंटों से भरी ट्रॉली पर खड़े दो मजदूर ऊपर से गुजरी हाईटेशन लाइन की चपेट में आ गए और जब तक वह कुछ समझ पाते तब तक तार उनके गले को छू कर उन्हें मौत के आवेश में ले चुका था। घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस इस दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले से विधुत विभाग को अवगत कराया।


तार की चपेट में आने से हुयी मौत

घटना रेउसा थाना क्षेत्र के जगदीशपुर इलाके की हैं। यहां के निवासी दो मजदूर ट्रैक्टर ट्रॉली में ईंटों को भरकर सप्लाई करने के लिए मारूबेहड़ जा रहे थे इसी दौरान दोनों मज़दूर भीषण गर्मी के चलते ट्रॉली पर खड़े होकर सफर कर रहे थे इसी दौरान जगदीशपुर के पास हाईटेंशन लाइन के तार गुजरे थे जो कि काफी नीचे थे उन्ही तारों की चपेट में वह दोनों व्यक्ति आ गए और करंट लगने से दोनों की मौके पर ही मौत हो गयी।


विधुत विभाग की लापरवाही से हुआ हादसा

घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर विधुत विभाग को मामले से अवगत कराया। स्थानीय लोगों में विधुत विभाग के प्रति काफी आक्रोश था उनका कहना कि 11 हजार की लाइन के तार काफी नीचे लटक आये हैं लेकिन शिकायत के बाद भी विभाग लापरवाही किये जा रहा हैं जिसका नतीजा हैं कि यह हादसा आज हो गया।