स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

चुनाव आयोग की शरण में जजपा, इस भाजपा प्रत्याशी के परिजनों पर सरकारी मशीनरी के दुरूपयोग का आरोप

Prateek Saini

Publish: Apr 25, 2019 18:16 PM | Updated: Apr 25, 2019 18:16 PM

Sirsa

जेजेपी प्रदेश कार्यालय सचिव रणधीर सिंह ने कहा कि लोकसभा चुनाव नजदीक आते ही भाजपा वालों की नित नए दिन चुनाव जीतने के नये-नये हथकंडे अपना रही है, अबकी बार बीजेपी ने तो हद ही कर दी है...

(चंडीगढ़,सिरसा): जननायक जनता पार्टी ने चुनाव आयोग को शिकायत पत्र लिखते हुए दो अधिकारियों के तुरंत तबादले की मांग की है। इस शिकायत के माध्यम से जेजेपी ने सिरसा से भाजपा प्रत्याशी सुनीता दुग्गल के भाई एसचीएस सुमित कुमार और उनके पति आईपीएस राजेश दुग्गल पर सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग करने का आरोप लगाते हुए उनकी पोस्टिंग पर आपत्ति जताई है।


जेजेपी प्रदेश कार्यालय सचिव रणधीर सिंह ने कहा कि लोकसभा चुनाव नजदीक आते ही भाजपा वालों की नित नए दिन चुनाव जीतने के नये-नये हथकंडे अपना रही है, अबकी बार बीजेपी ने तो हद ही कर दी है। उन्होंने मुख्य निर्वाचन अधिकारी को शिकायत देते हुए बताया कि प्रदेश में लोकसभा चुनाव को लेकर 10 मार्च से आदर्श आचार संहिता लागू है लेकिन सिरसा से भाजपा प्रत्याशी सुनीता दुग्गल के भाई और उनके पति सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करने में लगे हुए है। उन्होंने बताया कि सुनीता दुग्गल के भाई एचसीएस सुमित कुमार चंडीगढ़ में पंचायत विभाग के ज्वाइंट डायरैक्टर है और इनको हरियाणा सरकार ने हिसार में (हरियाणा अर्बन डेवलपमेंट अथॉरिटी) विभाग का अतिरिक्त पदभार दे रखा है। रणधीर सिंह ने बताया कि उन्हें फतेहाबाद जिले के पार्टी कार्यकर्ताओं के जरिए शिकायत मिली है कि सुनीता दुग्गल के भाई और एचसीएस अधिकारी सुमित कुमार के अंडर फतेहाबाद शहर समेत रतिया, टोहाना, भट्टू कलां का क्षेत्र आता है जिसके कारण वह पंचायत व हुडा विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों पर दबाव बनाकर अपनी बहन सुनीता दुग्गल के पक्ष में प्रचार करवा रहे है जो कि सरासर आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है।


जेजेपी द्वारा चुनाव आयोग को दिए गए पत्र में भाजपा प्रत्याशी सुनीता दुग्गल के पति राजेश दुग्गल की भी शिकायत की है। इस शिकायत पत्र के माध्यम से जेजेपी ने आयोग को बताया कि राजेश दुग्गल की हिसार स्थित थर्ड बटालियन में बतौर कमांडेंट पोस्टिंग है और राजेश दुग्गल आचार संहिता के आदर्शों की खुलेआम उल्लंघना कर रहे है। आरोप लगाया है कि राजेश दुग्गल जहां पुलिस विभाग की सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग कर रहे हैं, वहीं सभी नियमों को ताक पर रखकर अपनी पत्नी सुनीता दुग्गल की मदद करने के लिए पुलिस विभाग हिसार से कई पुलिस कर्मियों पर दबाव बना रहे है। जेजेपी ने चुनाव आयोग से मांग की है कि दोनों अधिकारियों पर कार्रवाई करते हुए हिसार से उनका तबादला तुरंत किसी और जगह किया जाए, ताकि वह सिरसा संसदीय क्षेत्र में चुनाव आचार संहिता को प्रभावित न कर पाएं।