स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

होटल में काम कर रहे नाबालिग से श्रम निरीक्षक कर रहे थे पूछताछ, ग्रामीणों ने बच्चा चोर समझकर घेरा

Amit Pandey

Publish: Aug 17, 2019 14:59 PM | Updated: Aug 17, 2019 14:59 PM

Singrauli

मौके पर पहुंची सरई पुलिस जांच में जुटी.....

सिंगरौली. सरईबाजार स्थित गुप्ता होटल में काम कर रहे नाबालिग बच्चों से पूछताछ करने पर ग्रामीणों ने बच्चा चोर समझकर श्रम निरीक्षक को घेर लिया। इस दौरान ग्रामीणों की भीड़ आक्रोषित हो गई। श्रम निरीक्षक की एक भी बात सुनने को तैयार नहीं थे। बल्कि आइडी सहित अन्य दस्तावेज का प्रूफ मांगने लगे। नहीं देने पर ग्रामीणों ने शक के संदेह में बच्चा चोर समझकर श्रम निरीक्षक एनके पाण्डेय को घेर लिया।

मामला बिगड़ता जा रहा था, इधर श्रम निरीक्षक ने आला अधिकारियों को सूचित कर दिया। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस मामले को शांत कराकर श्रम निरीक्षक को थाने लेकर गई। जहां उन्होंने पुलिस को बताया कि उच्च अधिकारियों के निर्देश पर होटलों में चेक करने के लिए आए थे। श्रम निरीक्षक के बयान के आधार पर सरईपुलिस ने १६ आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

नाबालिग को वाहन में बैठाने पर बिगड़ा मामला
बताया गया है कि श्रम निरीक्षक जब होटल से नाबालिग को वाहन में बैठाकर पूछताछ शुरू किए तो होटल संचालक व ग्रामीणों को बच्चा चोर का संदेह हुआ। इसके बाद होटल संचालक के साथ भारी संख्या में ग्रामीण जुट गए। वहीं श्रम निरीक्षक से श्रम निरीक्षक की आइडी की मांग किया। नहीं देने पर मारपीट करने को ठान लिया। देखते ही देखते मामला बिगड़ गया। स्थिति यह बन गईकि श्रम निरीक्षक ग्रामीणों की भीड़ से अपनी जान बचाने के लिए कलेक्टर व एसपी को सूचना दी।

16 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज
जानकारी के मुताबिक श्रम निरीक्षक ने घटनाक्रम के बारे में कलेक्टर व एसपी को सूचना दिया। इसके बाद सरईपुलिस मौके पर पहुंची। जिस मामले में पुलिस ने पप्पू गुप्ता, राकेश गुप्ता, गुरु गुप्ता, धरम गुप्ता, आशीष गुप्ता, ज्ञान गुप्ता, राहुल गुप्ता, लक्ष्मी जायसवाल, दीपचन्द्र, शेषमणि केशरवानी, संदीप गुप्ता, पप्पू जायसवाल, विनय गुप्ता, तुलसी गुप्ता, बब्बू कोल, कवर सिंह गोंड़ सहित अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कर पुलिस जांच कर रही है।