स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

फिर कनेक्शन काटने उतरा बिजली अमला, 53 सौ उपभोक्ताओं की सूची तैयार, कई रसूखदार भी शामिल

Amit Pandey

Publish: Sep 18, 2019 13:39 PM | Updated: Sep 18, 2019 13:39 PM

Singrauli

7 करोड़ से अधिक है बकाया बिजली राशि.....

सिंगरौली. शहरी क्षेत्र में लगभग 53 सौ उपभोक्ता बिजली विभाग के निशाने पर हैं। इन पर बिजली बिल की बड़ी राशि बकाया है और इनमें अधिकतर ऊंची पहुंच वाले व रसूखदार हैं। कई माह से बिल बाकी होने के आधार पर कुछ दिन पहले बकाया वाले उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटने की कार्रवाई शुरु की गई जो दो दिन बाद रोक दी गई।

सोमवार से एेसे बड़े बकाया वाले रसूखदार उपभोक्ताओं को फिर निशाने पर लिया गया है। बिजली कंपनी की ओर से अब पांच हजार या उससे अधिक राशि बकाया वाले उपभोक्ताओं की छंटनी कर उनके कनेक्शन काटने की कार्रवाई शुरू की गई है। बिजली कंपनी के स्तर पर की गई इस छंटनी में 53 सौ उपभोक्ता घिर गए। इन पर बिल के सात करोड़ रुपए से अधिक बाकी हैं। इसलिए बिल जमा नहीं कराने वाले इन उपभोक्ताओं के दुकान या घर की बिजली बंद होने वाली है।

बीते सप्ताह सबसे पहले बिल जमा नहीं कराने वाले उपभोक्ताओं के खिलाफ मुख्यालय के निर्देश पर सख्ती का डंडा चलाया गया। कुछ कारण से इसे रोक दिया गया। अब सोमवार से फिर बकाया वाले उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटने के लिए बिजली अमले का मैदान में उतारा गया है। बताया गया कि इसके तहत सोमवार को पहले दिन घूरीताल, नवानगर, ताली, नवजीवन विहार, माजन व अन्य जगह लगभग २३ कनेक्शन काटे गए। इनमें से कुछ उपभोक्ताओं की ओर से कनेक्शन जोडऩे के लिए संबंधित डीसी में तत्काल आवेदन किया गया तथा बकाया राशि भी जमा करा दी गई।

बिजली कंपनी शहर संभाग के कार्यपालन यंत्री एएस बघेल ने बताया कि शहर के कुल बकायादार में से पांच हजार या उससे अधिक रुपए का बिल नहीं चुकाने वाले उपभोक्ताओं की छंटनी की गई। इसमें पाया गया कि लगभग 53 सौ बड़े रसूखदार उपभोक्ता एेसे हैं जिन पर बिजली बिल के पांच से 20-25 हजार रुपए तक बाकी है। इनमंें से अधिकतर तो एसी जैसी सुविधा का उपयोग कर रहे हैं मगर वेे बिल जमा कराने के प्रति गंभीर नहीं हैं।

मोरवा व बैढऩ जोन में लगी एक-एक टीम
इस कारण सोमवार से एेसे ही बड़े व रसूखदार उपभोक्ताओं का कनेक्शन काटने की कार्रवाई शुरू की गई है। इसके लिए बैढऩ व मोरवा जोन में एक-एक टीम को लगाया गया है। उन्होंने बताया कि शहरी क्षेत्र में उपभोक्ताओं पर बिजली बिल के साढ़े सात करोड़ रुपए बाकी है। इसी राशि में से अधिकतम की वसूली के लिए बकाया वाले रसूखदार उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटे जाएंगे।

1200 लोगों का काटा जा चुका है कनेक्शन
कंपनी के अधिकारियों की ओर से बताया गया कि पिछले सप्ताह इस अभियान के तहत 12 सौ लोगों का कनेक्शन काटा गया था पर तब केवल व्यावसायिक श्रेणी के उपभोक्ता इस सख्ती का निशाना बने थे जबकि इस बार व्यावसायिक के साथ घरेलू श्रेणी के भी काफी रसूखदार उपभोक्ताओं को कनेक्शन काटे जाने की सूची में शामिल किया गया है।