स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एसपी बोले, मानसिकता बदले तो अपराध में आएगी कमी

Ajit Shukla

Publish: Dec 14, 2019 14:11 PM | Updated: Dec 14, 2019 14:11 PM

Singrauli

महिलाओं व बेटियों पर हो रहे अपराध के मद्देनजर की टिप्पणी....

सिंगरौली. मदरसा अल खदीजा तालाब रोड में संगोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में पुलिस अधीक्षक अभिजीत रंजन बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित रहे। पुलिस अधीक्षक ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि अपराध न हो इसके लिए सबसे पहले जरूरी है लोगों की मानसिकता बदले।

एसपी अभिजीत रंजन ने कहा कि महिलाओं और बेटियों को गलत नजर से नहीं देखें। लोगों की सोच और नजरिया बदले तो अपराध खुद ब खुद कम हो जाएगा। साथ ही उन्होंने महिलाओं और बेटियों को जागरूक करते हुए कहा कि किसी भी विषय परिस्थिति में वह डायल 100 की मदद ले सकती हैं।

कार्यक्रम में उपस्थित अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रदीप शेंडे ने भी बेटियों व महिलाओं की सुरक्षा के लिए पुलिस की ओर से किए गए इंतजाम पर प्रकाश डाला। महिला बाल विकास सदस्य आशा गुप्ता ने मानवाधिकार की स्थापना व अधिकार क्या है इस पर बताते हुए कहा कि लड़कियों को किसी प्रकार की कोई समस्या है तो माता-पिता, दोस्तों व शिक्षको को जरूर बताए।

छिपाने से समस्या का समाधान नहीं होता है। समस्या बढ़ती ही जाती है। उन्होंने गुड व बैड चट के बारे में भी बताया। कहा कि महिलाओं अपने को असुरक्षित महसूस न करें। समाजसेवी व सीए मनोरमा शाहवाल ने कहा कि अपराध कहीं होता है तो गलती लड़कियों की ठहराईजाती है। उन्होंने कहा कि घर में माता-पिता अपने बच्चों को समझाएं।ताकि वह समाज में अनैतिक व्यवहार नहीं करें। कार्यक्रम में अतिथियों मानवाधिकार की सदस्य महिलाओं व बच्चों को प्रमाणपत्र देकर पुरस्कृत किया।

[MORE_ADVERTISE1]