स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मिठाई की दुकान में मिला मिलावटी मावा, व्यावसायी गिरफ्तार

Ajit Shukla

Publish: Aug 14, 2019 22:00 PM | Updated: Aug 14, 2019 22:00 PM

Singrauli

विंध्यनगर पुलिस की ओर से की गई कार्रवाई....

सिंगरौली. राखी के त्यौहार में मिठाई की बढ़ी मांग का फायदा उठाते हुए व्यवसायी मिलावटी व नकली मावा यानी खोवा का जमकर इस्तेमाल कर रहे हैं। पुलिस की कार्रवाई में एक व्यवसायी को पकड़ा भी गया है। पुलिस ने मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर विंध्यनगर स्थित एक मिठाई की दुकान में छापेमारी कर मिलावटी मावा को जब्त करने और व्यवसायी को गिरफ्तार करने की कार्रवाई की।

विंध्यनगर पुलिस के मुताबिक मिली सूचना के आधार पर बनारसी मिष्ठान भंडार विंध्यनगर में छापा मारा गया। छापेमारी में दुकान में चार बोरी में 30-30 किलोग्राम के दो-दो पैकेट यानी कुल 240 किलोग्राम सिंथेटिक यानी नकली मावा मिला। इसे व्यवसायी मिठाईबनाने में उपयोग करने के फिराक में था।

थाना प्रभारी मनीष त्रिपाठी के मुताबिक मिलावटी यानी नकली मावा का उपयोग दूध के खोवे के स्थान पर किया जाना था, लेकिन टीम ने मौके पर कार्रवाई कर पूरा नकली मावा जब्त कर लिया गया है। नकली मावा की कीमत 50 हजार रुपए आंकी गई है। पुलिस ने इस मामले में सोनू कुमार अग्रहरी पिता स्व. विजय शंकर अग्रहरी निवासी विंध्यनगर को गिरफ्तार किया है।

पुलिस की ओर से व्यवसायी सोनू कुमार पर मानव स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाने के मामले में विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है। कार्रवाई में राममिलन तिवारी, अजीत सिंह, संतोष सिंह, सुनील पाठक, संजय सिंह, अभिमन्यु उपाध्याय, अमजद खान, आनंद पटेल सहित अन्य पुलिस कर्मी शामिल रहे।

नकली व मिलावटी मावा का प्रयोग बाजार की अन्य दूसरी कई दुकानों में भी संभावित है, लेकिन खाद्य विभाग के अधिकारियों की लापरवाही के चलते कार्रवाई नहीं हो सकी। नकली खाद्य पदार्थ खपाने वाले व्यवसाईयों को विभाग के अधिकारियों ने अभयदान दे रखा है। यही वजह है कि राखी जैसे त्योंहार में भी अधिकारियों की ओर से कोई कार्रवाईनहीं की जा सकी है। उनकी ओर से सारी कवायद केवल सेंपल एकत्र करने तक सीमित है।