स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

उर्ती में हर रोज जम रही जुआं की फड़, कार्रवाई से कतरा रही पुलिस

Amit Pandey

Publish: Nov 16, 2019 14:13 PM | Updated: Nov 16, 2019 14:13 PM

Singrauli

पुलिस ने साधी चुप्पी.....

सिंगरौली. कोतवाली क्षेत्र के गोभा चौकी अंतर्गत उर्ती गांव में हर रोज जुआं की फड़ जम रही है। उत्तर प्रदेश व छत्तीसगढ़ सहित स्थानीय जुआरी लाखों का दांव लगा रहे हैं। कोई लुट रहा है तो कोई मालामाल हो रहा है। इसके बावजूद थाना क्षेत्र की पुलिस चुप्पी साधे बैठी हुई है। दरअसल उर्ती गांव यूपी व छत्तीसगढ़ के बार्डर पर है। इसके चलते वहां जुआरियों का पड़ोसी राज्यों का आना और दांव लगाकर वापस लौटना काफी आसान होता है। पुलिस की चुप्पी ने जुआरियों और वहां उन्हें शह देने वालों का मनोबल ऊंचा बनाए रखा है और सब कुछ बहुत ही आसानी से चल रहा है।

पुलिस के सरंक्षण में वहां यह कारोबार खूब फल फूल रहा है। भले ही पुलिस जुआं फड़ पर कार्रवाई का दावा करती है लेकिन हकीकत यह है कि पुलिस जुआरियों पर कार्रवाई करने में असफल है। यह बात और है कि पुलिस बड़े जुआरियों को छूट दे रखी है। वहीं छोटे जुआ फड़ पर दबिश देकर वाहवाही लूटती है। सच्चाई का पता तो उर्ती गांव में पहुंचने के बाद चलता है। पुलिस की मिलीभगत से यहां चौबीस घंटे जुआरियों का जमघट देखने को मिल जाएगा।

जंगल में हर रोज बदलते हैं ठिकाना
सूत्रों की माने तो गांव में जुआं की फड़ वहां जंगल में जमती है। सतर्कता के मद्देनजर न केवल हर रोज स्थान बदल दिया जाता है। बल्कि जुआं का खेल कराने वाले स्थानीय माफिया रास्ते में अपने गुर्गों को भी तैनात रखते हैं। ताकि कोई खेल में खलल डालने वहां जाए तो उसकी भनक वहां उन्हें पहले ही लग जाए।

[MORE_ADVERTISE1]