स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अधर में लटके पेयजल योजना को लेकर अधिकारियों को सांसद ने दिया अल्टीमेटम

Ajit Shukla

Publish: Oct 22, 2019 14:04 PM | Updated: Oct 22, 2019 14:04 PM

Singrauli

निर्माण कार्य में तेजी लाने की दी हिदायत....

सिंगरौली. कई बार की हिदायत और आश्वसन के बावजूद अभी तक पेयजल योजना का कार्य अधर में लटका है। जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण समिति की बैठक में यह जानने के बाद सांसद रीती पाठक ने अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। उन्होंने कहा कि इस योजना को जल्द से जल्द पूरा किया जाए।

सांसद ने कलेक्टर केवीएस चौधरी से लापरवाही बरतने वालों पर कार्रवाई करने को भी कहा। कलेक्ट्रेट सभागार में सांसद की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में देवसर विधायक सुभाष वर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष अजय पाठक, नगर निगम की महापौर प्रेमवती खैरवार सहित अन्य जनप्रतिनिधि व अधिकारी उपस्थित रहे। बैठक की शुरुआत निर्धारित एजेंडा के मुताबिक प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण व शहरी की समीक्षा से शुरू हुई।

इससे पहले सांसद को पेयजल कार्य कार्य पूरा नहीं होने की जानकारी दी गई। आवास के संबंध में सांसद को बताया गया कि वित्तीय वर्ष 2016 से लेकर वर्ष 2019 तक में ग्रामीण क्षेत्र में 204२6 से 19207 आवास पूरे हो गए हैं। कलेक्टर ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में ग्रामीण योजना के तहत 8850 आवास स्वीकृत हुए हैं। इसके निर्माण का कार्य शुरू है।

प्रधानमंत्री आवास शहरी योजना के तहत वर्तमान में 1204 आवासों का निर्माण कार्य किया जा रहा है। इनमें 333 आवास पूर्ण हो चुके है और 731 आवासों में फिनशिंग का कार्य चल रहा है। बाकी के 140 आवास भी जल्द ही तैयार हो जाएंगे। कलेक्टर ने आवंटन की जानकारी भी दी। बैठक में इसी प्रकार अन्य योजनाओं की भी सांसद ने समीक्षा की।

सांसद को दी गई यह जानकारी
- मनरेगा योजना में 12917 अपूर्ण कार्यों में से 10 हजार 683 कार्यों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत कराया जा रहा है।
- नदी पुनर्जीवन कार्यक्रम के तहत चयनित नदी के कैचमेंट व रन ऑफ की गणना और चयनित स्वीकृति व शुरू कार्य के बारे में बताया।
- जनपद पंचायत देवसर के घोघरा व कुंदवार में, बैढऩ के सुहीरा व उर्ती में, चितरंगी के बगैया में गौशाला निर्माण का कार्य प्रगति पर है।
- स्व सहायता समूहों के गठन के बारे में बताया कि परिवारों की वर्तमान स्थिति 55464 है, जिसमें 1048 समूहों का गठन किया जा चुका है।
- कौशल उन्नयन एवं रोजगार के तहत 250 को आरसेटी प्रशिक्षण और 1000 युवाओ को सुरक्षा गार्ड का प्रशिक्षण दिलाया जा रहा है।
- जल्द ही नए ट्रामा सेंटर में गायनी विभाग का संचालन शुरू हो जाएगा, ओपीडी का कार्य वर्तमान में नए भवन में संचालित किया जा रहा है।