स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

समय पर कार्य पूरा नहीं हुआ तो अब बड़े अधिकारियों पर होगी कार्रवाई

Ajit Shukla

Publish: Aug 22, 2019 22:26 PM | Updated: Aug 22, 2019 22:26 PM

Singrauli

कलेक्टर ने दिया अल्टीमेटम....

सिंगरौली. तमाम हिदायत के बाद भी कार्य में तेजी नहीं आई है। इसके लिए संबंधित विभाग के अधिकारियों को जिम्मेदार माना जाएगा। समय पर कार्य पूरा नहीं हुआ तो अधिकारी भी कार्रवाई के लिए तैयार रहें। कलेक्टर केवीएस चौधरी ने अधिकारियों को कुछ इसी अंदाज में अल्टीमेटम दिया है।

कलेक्ट्रेट सभागार में गुरुवार को कलेक्टर ने डीएमएफ से स्वीकृत निर्माण कार्यों की समीक्षा की। पीडब्ल्यूडी, पीआइयू व एमपीआरडीसी सहित अन्य विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक में कलेक्टर ने समीक्षा के दौरान पाया कि ज्यादातर निर्माण कार्यों की प्रगति संतोषजनक नहीं है।

पूर्व में हिदायत दिए जाने के बावजूद कार्य में तेजी नहीं आई है। निर्माण कार्यों की धीमी प्रगति से अवगत होने के बाद कलेक्टर ने अधिकारियों पर नाराजगी जाहिर की।कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा कि निर्धारित समय सीमा के भीतर कार्य पूरा कराने के साथ ही फोटोग्राफ के साथ प्रमाणपत्र डीएमएफ शाखा में उपलब्ध कराएं।

कारण बताओ नोटिस जारी करने का निर्देश
कलेक्टर ने संबंधित अधिकारियों से कहा कि कार्य में संतोषजनक प्रगति नहीं है तो संबंधित के खिलाफ कारण बताओ नोटिस जारी किया जाए। संतोषजनक उत्तर नहीं मिलता है तो कार्रवाईकी जाए। जैसे भी हो, कार्य गुणवत्तापूर्ण और निर्धारित समय में पूरा होना चाहिए। कलेक्टर ने लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों की सूची भी तलब की है। गौरतलब है कि डीएमएफ में पीडीएस दुकानों के लिए भवन निर्माण से लेकर, सडक़, नाली व पुलिस सहित अन्य कई कार्य शामिल हैं।