स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रंग ला रही कलेक्टर की कवायद, एक साथ कई बेरोजगारों को मिल गया रोजगार

Ajit Shukla

Publish: Jan 15, 2020 00:15 AM | Updated: Jan 15, 2020 00:15 AM

Singrauli

प्रशिक्षण के प्रमाणपत्र के साथ मिला आफर लेटर....

सिंगरौली. बेरोजगारी कम करने और युवाओं को रोजगार मुहैया कराने की कलेक्टर की ओर से शुरू की गई कवायद रंग लाने लगी है। कौशल प्रशिक्षण पूरा करने के साथ ही एक साथ 49 युवाओं को रोजगार मिलने की खबर कलेक्टर की ओर से बनाई गई योजना की सफलता को बयां कर रहा है।

कलेक्टर केवीएस चौधरी की ओर से जिले के बेरोजगार युवकों व युवतियों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से उन्हें औद्योगिक प्रशिक्षण दिलाने की कवायद शुरू की है। बिलौंजी में उत्कर्ष कौशल केंद्र की शुरुआत की गई। केंद्र में बेरोजगार युवकों व युवतियों को औद्योगिक सिलाई मशीन आपरेटर का प्रशिक्षण दिलाया जा रहा है।

मंगलवार को केंद्र के 49 प्रशिक्षार्थियों ने अपना प्रशिक्षण कुशलता पूर्वक पूरा किया। खुशखबरी यह रही कि उन्हें प्रशिक्षण पूरा करने पर प्रमाणपत्र के साथ नौकरी का ऑफर लेटर भी उपलब्ध कराया गया है।प्रशिक्षण पूरा करने वाले प्रशिक्षार्थियों को गुजरात की वेलेस्पन इंडिया लिमिटेड नाम की कंपनी ने नौकरी का ऑफर दिया है।

कंपनी में ज्वाइन करने के लिए प्रशिक्षणार्थी 26 जनवरी को गुजरात के लिए रवाना होंगे। प्रशिक्षणार्थियों को ऑफर लेटर देते हुए कलेक्टर ने उनको शुभकामना भी दी है। इस मौके पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ऋतुराज व कंपनी के क्षेत्रीय प्रबंधक यशोधर सिंह व संभागीय समन्वयक कमता सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

[MORE_ADVERTISE1]Singrauli Collector plans successful, youth get employment
Patrika IMAGE CREDIT: Patrika
[MORE_ADVERTISE2]

महज 40 दिन में पूरी तरह से हो गए ट्रेंड
कलेक्टर ने उन प्रशिक्षणार्थियों को शुभकामना दी है, जिन्हें कंपनी की ओर से नौकरी के लिए ऑफर लेटर जारी हुआ है।प्रमाणपत्र और ऑफर लेट देते हुए कलेक्टर ने कहा कि सभी प्रशिक्षणार्थी कंपनी में ज्वाइन करने के बाद खूब मेहनत करके कार्य करें। ताकि उनका भविष्य उज्ज्वल हो। हौसलाआफजाई करते हुए कहा कि ४० दिन का प्रशिक्षण प्राप्त कर कार्य में कुशल हो गए है। इससे जाहिर है कि सभी में बेहतर करने की पर्याप्त क्षमता है।

दूसरों को भी प्रेरित करने का मशविरा
कार्यक्रम में उपस्थित जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ऋतुराज ने प्रशिक्षणार्थियों को शुभकामना देते हुए कहा कि वह सब अपने गांवों के अन्य युवाओं को भी प्रशिक्षण लेने के लिए प्रेरित करें। ताकि उन्हें प्रशिक्षण के बाद रोजगार मिल सके। प्रशिक्षण के बाद युवक व युवतियां खुद का व्यवसाय भी शुरू कर सकती हैं। गौरतलब है कि प्रशिक्षण केंद्र ट्रामा सेंटर बिलौंजी के पास संचालित किया जा रहा है।

[MORE_ADVERTISE3]