स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

निर्माण कार्य में सुस्ती पर कलेक्टर ने लगाई फटकार, बोले अब करेंगे कार्रवाई

Ajit Shukla

Publish: Oct 14, 2019 22:10 PM | Updated: Oct 14, 2019 22:10 PM

Singrauli

अधिकारियों को दिया अल्टीमेटम, कई दूसरे दिशा-निर्देश भी जारी...

सिंगरौली. जिला खनिज प्रतिष्ठान मद से स्वीकृत विभिन्न निर्माण कार्यों को शीघ्र पूरा किया जाए। अब लापरवाही किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी। लापरवाही पर सख्त कार्रवाई होगी। कलेक्टर केवीएस चौधरी ने विभागीय अधिकारियों को यह अल्टीमेटम दिया है। उन्होंने निर्माण एजेंसियों की सुस्ती के लिए विभागीय अधिकारियों को ही जिम्मेदार माना है।

कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक के दौरान कलेक्टर ने विभागीय अधिकारियों से कहा कि वह सक्रिय रहें तो निर्माण एजेंसियां तेजी के साथ कार्य पूरा करेंगी। कलेक्टर ने पीडीएस गोदाम व गौशाला सहित अन्य निर्माणाधीन कार्यों को हर हाल में निर्धारित समय में पूरा करने का निर्देश दिया है। अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया कि विभागों में पदस्थ कर्मचारियों का वेतन सार्थक एप में दर्ज उपस्थिति के आधार पर दिया जाए।

उपखण्ड अधिकारियों व तहसीलदारों को भी कलेक्टर ने जमकर लताड़ लगाई। कहा कि आरसीएमएस पोर्टल पर निराकृत प्रकरणों को अपलोड किए जाने के लिए कई बार निर्देश दिए गए। इसके बावजूद अधिकारी सक्रियता नहीं दिखा रहे हैं। अभी तक लक्ष्य के अनुरूप प्रकरण पोर्टल पर अपलोड नहीं जा सके हैं।

कलेक्टर ने इस घोर लापरवाही करार दिया। बैठक में विभिन्न विभागों के अधिकारियों को अन्य कई दूसरे निर्देश दिए गए। इस दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ऋतुराज, नगर निगम आयुक्त शिवेंद्र सिंह, डिप्टी कलेक्टर एसपी मिश्र, बीपी पाण्डेय व रवि मालवीय सहित अधिकारी उपस्थित रहे।

कलेक्टर ने ये भी दिया निर्देश
- लंबित राजस्व प्रकरणों का निराकरण तेजी के साथ पूरा किया जाए।
- छात्रों के जाति प्रमाणपत्र के आवेदन का त्वारित निराकरण करें।
- उपार्जन व आंगनबाड़ी केंद्र के भवन के लिए भूमि का चयन जल्द करें।
- किसानों के लिए पर्याप्त मात्रा में खाद का भंडारण पूरा किया जाए।
- जननी सुरक्षा सहित योजनाओं के प्रकरणों का निराकरण तेजी से हो।
- कन्या विवाह योजना के तहत आर्थिक सहायता जल्द दिलाई जाए।