स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

8 माह, 24 हत्याएं और आधा दर्जन से अधिक लूट, पुलिस विभाग के पन्नों में दर्ज हुए 2285 गंभीर अपराध

Amit Pandey

Publish: Sep 17, 2019 16:11 PM | Updated: Sep 17, 2019 16:11 PM

Singrauli

चोरी की घटनाओं में भी हो रही है लगातार बढ़ोत्तरी.....

सिंगरौली. पुलिस लाख सुरक्षा के दावे करे लेकिन स्थिति ठीक इसके विपरीत है। पुलिस विभाग के अपराध के रजिस्टर पर नजरें डालें तो आठ महीने में 2285 अपराध दर्ज हो चुके हंै। ये आंकड़े न केवल डराते हैं बल्कि यह भी दर्शाते हैं कि बदमाश यहां बेखौफ वारदातों को अंजाम दे रहे हैं।

जनवरी से अगस्त तक आठ महीनों में गंभीर अपराधों पर नजर डालें तो 24 हत्याएं और आधा दर्जन से अधिक लूट की वारदात समेत 102 अपहरण के मामले लोगों में दहशत पैदा कर रहे हैं। पुलिस की लापरवाही कहें या फिर लचर कार्यशैली, नतीजा ये है कि वारदातें लगातार बढ़ रही हैं। जिसे रोकने में पुलिस हर मोर्चे पर नाकाम है। यदि ऐसे ही वारदातों में इजाफा होता रहा तो सालभर में पांच हजार से ज्यादा अपराध पुलिस के रिकार्ड में दर्ज हो जाएंगे।

यही नहीं, कई गंभीर मामले ऐसे भी हैं जिसमें पुलिस मामला तक दर्ज नहीं करती है। जियावन क्षेत्र के ढि़लरी गांव की घटना पूरे जिले में चर्चा का विषय बनी हुई है। स्थानीय पुलिस पर आला अधिकारियों का भी कहीं न कहीं भरोसा उठ रहा है। दरअसल, गंभीर वारदातों में पुलिस को इनाम रखना पड़ा है। बिना इनाम पुलिस अपराधियों तक नहीं पहुंच रही है।

ये हैं बड़ी वारदतें:-
केस-एक
जियावन थाना क्षेत्र के ढिलरी गांव में 19 जुलाई को जमीनी विवाद में आरोपी प्रभाकर उर्फ चरकु पिता लाल कुमार वैश्य, बंधु वैश्य पिता हंसलाल व लालपति पिता बंधु ने ट्रैैक्टर से कुचलकर किरण कोल की हत्या कर दिया। वहीं विशेषर कोल को लातघुसे व लाठियों से पीटकर घायल कर दिया था।

केस-दो
सरई थाना क्षेत्र के दुधमनियां निवासी रामानंद प्रजापति पिता जगधारी प्रजापति जमीनी विवाद से तंग आकर 16 जुलाई को सरई थाने में पुलिस के सामने आत्मदाह की कोशिश किया। तीन अगस्त को उपचार के दौरान युवक की मौत हो गई। घटना के बाद पुलिस व प्रशासन ने बवाल काटा।

केस-तीन
कोतवाली क्षेत्र के परसदेही गांव में 15 अगस्त देवनारायण वैश्य, प्रयागलाल वैश्य, रमाशंकर वैश्य, बद्री नारायण वैश्य, रामानुज वैश्य, रामनरेश यादव, पवन सिंह ने श्रीमती विश्वकर्मा को बंधक बनाकर दूर तक घसीटा था। महिला को चोटें आई थी। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

बड़ी घटनाएं, जो बीते माह घटी:
केस-एक
बंधौरा चौकी क्षेत्र में एक किशोरी का अपहरण करने के बाद बदमाशों ने उसकी हत्या कर दिया था। मामले को पुलिस ने दबा दिया था, लेकिन जब घटनाक्रम उजागर हुआ तो पुलिस की खूब किरकिरी हुई

केस-दो
अंबेडकर नगर से एक छात्रा को बदमाशों ने कार में बैठाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। मामले की शिकायत पर पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर कार वाहन को जब्त कर लिया था।

एक नजर में अपराध के आंकड़े
हत्या - 24
हत्या का प्रयास - 09
लूट - 07
दुष्कर्म - 78
अपहरण - 102