स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रेत कारोबारियों ने बना ली लंबी चौड़ी सडक़, जिम्मेदारों को खबर तक नहीं

Ajit Shukla

Publish: Nov 16, 2019 00:09 AM | Updated: Nov 16, 2019 00:09 AM

Singrauli

हर रोज रेत ढोने में लगे 200 से अधिक वाहन, केवल चंद पर हुई कार्रवाई....

सिंगरौली. गढ़वा थाना क्षेत्र के देवरा व पिपरझर में सोन नदी से हो रहे रेत के अवैध खनन को लेकर जिम्मेदारों की निष्क्रियता का अंदाजा केवल इस बात से लगाया जा सकता है कि वहां परिवहन के लिए रेत कारोबारियों ने लंबी चौड़ी सडक़ बना ली और जिम्मेदारों को इसकी खबर तक नहीं। क्षेत्र के थाना प्रभारी का जहां यह कहना है कि अभी वह क्षेत्र के भ्रमण पर नहीं निकले हैं। वहीं एसडीएम भी सडक़ बनाए जाने से जानकारी से पल्ला झाड़ रहे हैं। इधर दूसरी ओर उपखंड अधिकारी की ओर से गुरुवार की देर रात की गई कार्रवाई भी यह बयां करने के लिए पर्याप्त है कि साठगांठ के चलते अधिकारी बहुत कुछ कर पाने की स्थिति में नहीं हैं।

थाना क्षेत्र के देवरा व पिपरझर का शायद ही कोई शख्स हो जिसे वहां हो रहे रेत के अवैध खनन की जानकारी नहीं हो। ग्रामीणों से लेकर पुलिस सहित अन्य अधिकारी इस बात से वाकिफ हैं कि सोन नदी के प्रतिबंधित क्षेत्र से हर रोज रात में करीब 200 छोटे-बड़े वाहन रेत लेकर निकलते हैं, लेकिन एसडीएम के नेतृत्व में टीम द्वारा की गई कार्रवाई केवल चार वाहनों पर हुई। हाल यह है कि जहां रात भर वाहनों के आवागमन से ग्रामीण परेशान हैं।वहीं दूसरी ओर सोन घडिय़ाल क्षेत्र का अस्तित्व संकट में आ गया है। इस स्थिति में भी जिम्मेदार तमाशबीन बने हुए हैं।

प्राइवेट वाहन से कार्रवाई करने निकले एसडीएम
सोन नदी में अवैध रेत खनन करने वाले कारोबारियों का वर्चस्व क्षेत्र में इस कदर कायम है कि एसडीएम नीलेश शर्मा को भी कार्रवाई के लिए प्राइवेट वाहन से निकलना पड़ा। गुरुवार की देर रात एसडीएम व उनकी टीम प्राइवेट वाहन से चेकिंग करने के लिए निकले। वजह यह बताई गई कि वह सरकारी वाहन से जाते तो कारोबारियों को पहले ही खबर लग जाती। इतनी सतर्कता के बावजूद कारोबारियों को एसडीएम के चेकिंग पर निकलने की खबर लग गई।

हालांकि इस बीच उन्होंने चार वाहनों को अवैध रेत के साथ दबोच लिया। एसडीएम नीलेश शर्मा, तहसीलदार कुणाल राउत, खनिज निरीक्षक केएम शुक्ला व थाना प्रभारी डीएन राज की टीम ने वाहन क्रमांक यूपी 64 एटी 315, यूपी 64 एटी 1184, यूपी 64 एटी 7504 व यूपी 64 एटी 7187 को अवैध खनन व परिवहन में लिप्त पाने पर जब्त किया है। इसके अलावा एक बिना नंबर का टै्रक्टर भी पकड़ा गया है। वाहनों को सुरक्षार्थ गढ़वा थाना में खड़ी कराया गया है।

क्षेत्र में जनप्रतिनिधि भी सिफारिश करने पहुंचे
एसडीएम के नेतृत्व में निकले दल की कार्रवाई भले ही केवल चार वाहनों तक सीमित रही हो, लेकिन कार्रवाई को लेकर हडक़ंप पूरे क्षेत्र में मचा हुआ है। कार्रवाई करने वाले अधिकारियों पर न केवल तमाम तरह का दबाव बनाया जा रहा है। बल्कि क्षेत्र के एक जनप्रतिनिधि वाहनों को छोडऩे के लिए सिफारिश करने से भी बाज नहीं आए हैं। हालांकि अधिकारी जनप्रतिनिधि का नाम बताने को तैयार नहीं हैं।

[MORE_ADVERTISE1]