स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जिले में बढ़ते अपराध पर बोले आइजी: अपराध पर लगाम लगाना थानेदारों की जिम्मेदारी

Amit Pandey

Publish: Sep 19, 2019 10:14 AM | Updated: Sep 19, 2019 10:14 AM

Singrauli

दिए गए कई निर्देश......

सिंगरौली. जिले में बढ़ते अपराध पर आइजी ने चिंता जाहिर की।थानेदारों से बोले, अपराध लगाम लगाने की जिम्मेदारी उनकी है। दायित्वों का उचित निवर्हन नहीं कर सके तो जवाब देना पड़ेगा। यहां एक दिवसीय दौरे पर आए आइजी चंचर शेखर ने थानेदारों को कुछ ऐसे ही अंदाज में आगाह किया।

आइजी ने बुधवार की सुबह शहरी थानेदारों के साथ बैठक लेकर त्योहार में सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने का सख्त निर्देश दिया है। इसके बाद वह नक्सल प्रभावित थाना क्षेत्रों के भ्रमण पर निकले। भ्रमण के दौरान सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते हुए उन्होंने महकमे के अधिकारियों को कानून व्यवस्था बनाए रखने में लापरवाही नहीं बरतने की हिदायत दी है।

आइजी ने बैठक के दौरान शहरी थानेदारों को नवरात्रि पर्व के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था कायम रखने की समझाइश दिया। साथ ही थानेदारों से थाना क्षेत्र में घटित अपराध के बारे में बारीकी से पूछताछ करते हुए चेताया है कि लगातार बढ़ रहे अपराध पर अंकुश लगाएं। महिला अपराध को रोकने में पुलिस नाकाम साबित हो रही है। यह पुलिस के लिए शर्मनाक है। गंभीर अपराधों को कैसे रोकना है यह संबंधित थानेदार की जिम्मेवारी होगी। इस दौरान एसपी अभिजीत रंजन व एएसपी प्रदीप शेंडे सहित थानेदार मौजूद रहे।

आइजी ने किया माड़ा थाने का निरीक्षण
नक्सल प्रभावित थाना क्षेत्र माड़ा पहुंचे आइजी ने वहां मौके जायजा लिया।आइजी ने प्रभारी को निर्देश जारी किया।वहीं थाने का रिकार्ड सहित अधिकारी व कर्मचारियों के बारे में जानकारियां लेते हुए पदस्थ स्टॉफ की बर्दी व कार्यशैली के बारे में पूछ परख किया गया। माड़ा थाना क्षेत्र में लगातार हो रही महिला अपराध पर अंकुश लगाने विशेष जोर दिया है। वहीं ग्रामीणों को जागरूक करने के लिए शिविर का आयोजन करने की समझाइश दिया है।

गुफाओं की सुंदरता का उठाए लुफ्त
घने जंगल व हरियाली के बीच स्थापित माड़ा की गुफाओं की सुंदरता को देख आइजी चंचल शेखर भी उत्साहित हो गए। एसपी व एएसपी सहित थाने के स्टॉफ के साथ माड़ा की गुफाओं का लुफ्त उठाने पहुंचे। जहां पूरे स्टॉफ के साथ गुफाओं को घुमते हुए संबंधित थाने की पुलिस को अलर्ट भी किया है क्योंकि अधिकांश महिला अपराध माड़ा क्षेत्र में घटित हो रहा है। जिसके मद्देनजर स्थानीय पुलिस को सतर्क रहते हुए नजर बनाए रखने की हिदायत दी है।

आइजी के प्रमुख निर्देश
- त्यौहारों पर हर हाल में शांति व्यवस्था कायम रहे।
- जमानत पर जेल से रिहा अपराधियों पर नजर रखें।
-घटनाओं की निर्धारित अवधि में जांच पूरी करें।
- रात्रि के समय गश्त में तटस्थता बरती जाए।
-वरिष्ठ अधिकारी भी थाना क्षेत्रों का निरीक्षण करें।
- ड्यूटी के तैनात पुलिस बल पर भी नजर रखा जाए।
- फरियादियों की बात को गंभीरता से सुना जाए।