स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ऊर्जाधानी से अब दिल्ली तक होगी डबल रेलवे लाइन, नई ट्रेनों की उम्मीद बढ़ी

Ajit Shukla

Publish: Jan 24, 2020 00:26 AM | Updated: Jan 24, 2020 00:26 AM

Singrauli

चोपन-चुनार रेलखंड के दोहरीकरण के लिए बजट जारी....

सिंगरौली. ऊर्जाधानी यानी सिंगरौली से नईदिल्ली व कोलकता तक की पूरी रेलवे लाइन डबल यानी दोहरी होगी। दोहरीकरण से बाकी रह गए चोपन-चुनार रेलखंड के लिए रेलवे बोर्ड न केवल स्वीकृति मिल गई है।बल्कि इस रेलखंड के दोहरीकरण के लिए बजट भी जारी हो गया है। क्षेत्रीय रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति के सदस्य एसके गौतम सहित कईजनप्रतिनिधि इसके लिए लंबे समय से प्रयत्नशील रहे हैं। संबंधित रेलखंड के दोहरीकरण से यात्रियों के साथ कोयला परिवहन में बड़ी राहत मिलेगी।

परामर्शदात्री समिति के सदस्य गौतम के मुताबिक रेल मंत्रालय ने बिल्ली जंक्शन से चोपन-चुनार 108 किलोमीटर रेलखंड दोहरीकरण को स्वीकृति प्रदान करते हुए इसके फाइनल लोकेशन सर्वे निर्देश जारी किया है। साथ ही डीपीआर के लिए 13.5 करोड़ रुपए की धनराशि भी स्वीकृत की गई है।उन्होंने बताया कि पूर्व में आयोजित जेडआरयूसीसी व सांसद बैठक में वह सांसद प्रतिनिधि के रूप में शामिल हुए थे।

बैठक में इस मुद्दे को मांग के रूप में उठाया गया था। इतना ही नहीं रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव व इंजीनियरिंग रेलवे बोर्ड के सदस्य विश्वेश चौबे से विशेष रूप से मुलाकात कर संबंधित रेलखंड के दोहरीकरण की बात कही गई थी। राज्यसभा सांसद रामशकल व लोकसभा सांसद पकौड़ी लाल कोल के माध्यम से रेलमंत्री पियूष गोयल से भी रेलखंड का दोहरीकरण कराने की मांग की गई थी। इन सबके फलस्वरूप रेलवे बोर्ड से बजट जारी कर दिया गया है।

सिंगरौली तक नई ट्रेन चल सकेगी
चोपन-चुनार रेलखंड के दोहरीकरण के बाद उर्जांचल के सिंगरौली व शक्तिनगर रेलवे स्टेशन वाया चोपन धनबाद व हावड़ा तक और वाया चुनार नई दिल्ली तक जुड़ जाएंगे। इससे नई ट्रेन चलने की अब तक की सबसे बड़ी मुश्किल हल हो जाएगी। इसके अलावा यहां से कोयला सहित अन्य मालवाहक का परिवहन आसान हो जाएगा।

विद्युतीकरण का पूरा हो चुका है कार्य
गौरतलब है कि जनप्रतिनिधियों और परामर्शदात्री समिति के सदस्य के प्रयासों से इस रेलखंड के विद्युतीकरण का कार्य पूरा हो गया है। पहले मालगाड़ी व फिर सवारी गाड़ी चलाकर ट्रायल का कार्यभी पूरा हो गया है। बताया गया कि चोपन-सिंगरौली रेलखंड पर करैला रोड स्टेशन से सिंगरौली-महदईया स्टेशन तक शेष बचे विद्युतीकरण का कार्य 30 जनवरी तक पूरा कर लिया जाएगा। इन कार्यों से रेलवे सुविधा दिनोंदिन बेहतर हो रही है।

[MORE_ADVERTISE1]