स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

दुनिया देखेगी सिंगरौली के बच्चों का अजूबा, अब बच्चों के हुनर को लेकर बनेगी फिल्म, पहुंचे निर्देशक

Amit Pandey

Publish: Jan 29, 2020 21:25 PM | Updated: Jan 29, 2020 21:25 PM

Singrauli

दोनों हाथों से लिख लेते हैं बुधेला स्थित स्कूल के बच्चे....

सिंगरौली. वीणा वादिनी पब्लिक स्कूल बुधेला के बच्चों का अजूबा अब दुनिया देखेगी। यहां के छात्रों के दोनों हाथ से लिखने का हुनर व 5-6 भाषाओं के ज्ञान को पूरे विश्व में फिल्म के जरिए दिखाया जाएगा। मुंबई से बुधेला वीणा वादिनी स्कूल में पहुंचे फिल्म निर्देशक ने स्थित का जायजा लेते हुए रणनीति तय कर लिया है। मुख्यालय से लगभग 20 किमी दूरी पर स्थित वीणा वादिनी पब्लिक स्कूल के बच्चों की शिक्षा को देखकर आप दंग रह जाएंगे।

यहां के छात्र न केवल दोनों हाथ से लिखते हैं बल्कि उन्हें 5-6 भाषाओं का ज्ञान भी है। छात्रों की अजूबा को उबारने के लिए बड़े-बड़े फिल्म स्टार जिले में आमद देंगे। मूवी में मुख्य नायिका का रोल स्नेह सचान, मानवी वर्मा व हंशा तिवारी अदा करेंगी। फिल्म के निर्माता व निर्देशक वीरेंद्र सिंह सजल ने बताया कि यहां के बच्चों का हैरत करने वाले अजूबा को अब पूरा विश्व देखेगा।

मार्च में आएंगे फिल्मी स्टार
जिले के बुधेला स्थित वीणा वादिनी पब्लिक स्कूल में मूवी को शूट करने के लिए बड़े-बड़े फिल्मी स्टार नाना पाटेकर, जैकी श्राफ, चंकी पाण्डेय व अभिनव कुमार मार्च में आएंगे। स्कूल में मूवी शूट करेंगे, इस दौरान स्कूल के शिक्षक का रोल अभिनव कुमार निभाएंगे। इससे स्कूल के शिक्षक विरंगत शर्मा को एक नई उम्मीद जगी है कि उनके स्कूल के छात्रों का अजूबा पूरा विश्व देखेगा।

शिक्षा पद्धति को उबारने का प्रयास
शिक्षा पद्धति को जीवंत करने का प्रयास विरंगत शर्मा कर रहे हैं उसी विषय पर मूवी बनाई जाएगी। ताकि इस शिक्षा पद्धति को पुन: भारत वर्ष में ही नही पूरे विश्व मे स्थापित किया जा सके। दोनों हाथों से ही एक समय मे लिखने की अद्भुत कला को मूवी के माध्यम से पूरे विश्व को परिचित कराया जाएगा। इस विशेष शिक्षा अभियान में वीपी सिंह राजाबाबा व वीणा सिंह का विशेष योगदान है।

जल्द होगी फिल्म शूटिंग
निर्माता व निर्देशक वीरेंद्र सिंह सजल ने बताया कि अभी हाल ही में हमने स्कूल में पहुंचकर फिल्म रिलीज होने की जानकारी से अवगत करा दिया है। मार्च में फिल्म शूट करने की योजना बनाई गई है। मूवी में शिक्षा प्रणाली को समझकर नायिका का रोल अदा किया जाएगा। दो घंटे की मूवी में शिक्षा से संबंधित व छात्रों की कला को समूचे भारत के साथ-साथ विश्व में भी यह बताया जाएगा कि यह कला आज भी बच्चों ने संजोए रखा है।

[MORE_ADVERTISE1]