स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

खुद को एसपी कार्यालय का इंस्पेक्टर बताकर शातिर बदमाश ने एनसीएलकर्मी से ठग लिए एक लाख रुपए

Amit Pandey

Publish: Jul 20, 2019 13:04 PM | Updated: Jul 20, 2019 13:04 PM

Singrauli

सक्रिय हुई पुलिस ने दबोचा.....

सिंगरौली. एसपी कार्यालय का अफसर बताकर एनसीएल कर्मी से एक लाख रुपए की ठगी करने वाले आरोपी को नवानगर पुलिस ने पकड़ा है। आरोपी के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर उसे न्यायालय में पेश किया गया। जहां से आरोपी को पुलिस ने जेल भेज दिया है।

जानकारी के मुताबिक आरोपी करण साकेत निवासी नंदगांव ने अपने को एसपी कार्यालय का पुलिस अफसर बताकर डीजल चोरी करने के मामले में एनसीएल कर्मी से एक लाख 20 हजार रुपए की ठगी कर लिया।एनसीएल कर्मी को शक हुआ तो उसने इसकी शिकायत नवानगर थाने में दर्ज कराई।विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया।मुखबिर की सूचना पर नवानगर पुलिस ने पेड़ताली से नंदगांव आ रहे ठग को जयंत पड़ाव के पास दबोच लिया।

दो माह पहले हुई थी ठगी
पुलिस ने बताया कि आरोपी करण साकेत अपराधी किस्म का है। बीते दो माह पहले एनसीएल निगाही परियोजना के बस चालक को डीजल चोरी करने का आरोप लगाते हुए खुद को एसपी कार्यालय में पदस्थ सब इंस्पेक्टर बताकर एक लाख बीस हजार रुपए की ठगी कर लिया। इसके बाद और रुपए कि मांग करने लगा। जिस पर आशंका जाहिर करते हुए फरियादी सुरेंद्र तिवारी ने नवानगर थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। टीआई यूपी सिंह के नेतृत्व में गठित टीम ने कार्रवाई किया है।

नक्सली बनकर कर चुका है लूट
बताया है कि वर्ष 2014 में आरोपी करण साकेत अपने साथी अपराधी पंकज साहू के साथ मिलकर नक्सली बताते हुए लूट कि वारदात को अंजाम दे चुका है। यह मामला न्यायालय में विचाराधीन है। जिसे पुन: ठगी करने के मामले में नवानगर पुलिस ने पकड़ा है। आरोपी के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज उसे जेल भेज दिया गया है। कार्रवाई में एसआई सीके सिंह, एसआई श्यामबिहारी द्विवेदी, प्रधान आरक्षक सजीत सिंह, सुनील दुबे, आरक्षक फूल सिंह शामिल रहे।