स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राजस्थान के किस इलाके में महिलाएं हैं ‘शृंगार’ से दूर! जानिए क्या है वजह...

Gaurav Saxena

Publish: Nov 11, 2019 17:53 PM | Updated: Nov 11, 2019 17:53 PM

Sikar

सीकर के नीमकाथाना इलाके में चोरी की वारदातों में पुलिस की सुस्ती के चलते नहीं हो पा रहे खुलासे। यहां आए दिन हो रही वारदातों में चोरी गए गहने का महिलाओं को अभी तक है इंतजार।

सीकर. क्षेत्र में चोरी की वारदात बढ़ रही है। पुलिस इन वारदातों पर लगाम लगाने में नाकाम साबित हो रही हंै। कई वारदातों में सीसीटीवी फुटेज मिलने के बावजूद पुलिस चोरी की घटनाओं का खुलासा तो दूर की बात चोरों का सुराग तक नहीं लगा पा रही हैं। पिछली वारदातों को देखा जाए तो चोरों ने शिक्षकों के मकानों को ज्यादा निशाना बनाया हैै।
गांवड़ी मोड़ स्थित शिक्षक दंपती के घर हुई लाखों रुपयों की ज्वैलरी चोरी के बाद पत्रिका टीम चोरी से पीडि़त परिवारों से बात की तो महिलाओं ने कहा पुलिस केवल आश्वासन देती है। चोरों को पकडऩे के बावजूद भी पुलिस चोरी के सामान को उनसे बरामद नहीं कर पाती है। मेहनत से बनवाई हुई सोने के आभूषणों को खो बैठी। महिलाओं को आभूषण वापस मिलने का आज भी इंतजार है। लोगों की मानें तो पुलिस गश्त में लापरवाही बरत रही है।
शादी के जेवर चोरी
संतोषी माता मंदिर के पीछे कॉलोनी निवासी पीडि़ता शिक्षिका संगीता सिंह ने बताया कि 13 अप्रेल को चोर उनके घर से दिन दहाड़े उनकी शादी की पूरी ज्वैलरी सहित लाखों रुपयों का सामान चोरी कर ले गए।
04 लाख का सामान
शिक्षक सुरेश वर्मा ने बताया कि 15 जुलाई 2015 को दिन में चोर मकान में घुस कर 8 हजार रुपये की नकदी सहित चार लाख रुपये के आभूषण सहित अन्य सामान चोरी कर ले गए।
अब तक चोरी का खुलासा नहीं
न्यू कॉलोनी छावनी निवासी शिक्षिका मोनिका देवी का कहना था कि 10 मई 2019 को चोर उनके घर से दिन में ही चोरी की वारदात को अंजाम देकर अलमारी में रखे 12 हजार नकदी, 2 कानो का झूमका, अंगूठी, पायल चोरी कर ले गए। पुलिस अभी तक सामान बरामद नहीं कर पाई।
चोर पकड़े गए सामान नहीं मिला
मोदी बाग निवासी पीडि़ता शिक्षिका कमला सैनी ने बताया कि चोर 3 लाख रुपये के करीब ज्वैलरी चोरी कर ले गए। चोरों ने 19 जुलाई 2018 को दिन में ही वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने चोरों को स्कैन भी किया मगर उनसे सामान बरामद नहीं कर पाई।
पुलिस का घेराव किया, कुछ नहीं हुआ
मोदी बाग निवासी शिक्षिका सुशीला सैनी ने बताया कि चोर 2 अगस्त 2015 को दिन दहाड़े मकान में घुस कर चोरी की वारदात को अंजाम दिया। चोर अलमारी में रखा सोने की चुडिय़ा, चैन, कानों के टोप्स, अंगूठी पाजेब व 5 हजार रुपये नकदी चोरी कर ले गए। कोतवाली का घेराव भी किया मगर पुलिस के ना तो चोर हाथ लगे ना ही सामान।

[MORE_ADVERTISE1]