स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राजस्थान पंचायत चुनाव: सर्दी व कोहरे के बीच मतदान शुरू, मतदाताओं में जोरदार उत्साह

Naveen Parmuwal

Publish: Jan 22, 2020 09:18 AM | Updated: Jan 22, 2020 09:18 AM

Sikar

राजस्थन पंचायत चुनाव ( Rajasthan Panchayat Chunav 2020 ) के दूसरे चरण ( Voting for Second Phase in Rajasthan ) के लिए सुबह आठ बजे से मतदान प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। सीकर जिले की श्रीमाधोपुर व खंडेला पंचायत समिति क्षेत्र की ग्राम पंचायतों में सरपंच व पंच चुने जाएंगे।

सीकर.
राजस्थन पंचायत चुनाव ( Rajasthan Panchayat Chunav 2020 ) के दूसरे चरण ( Voting for Second Phase in Rajasthan ) के लिए सुबह आठ बजे से मतदान प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। सीकर जिले की श्रीमाधोपुर व खंडेला पंचायत समिति क्षेत्र की ग्राम पंचायतों में सरपंच व पंच चुने जाएंगे। हालांकि शुरूआती दौर में सर्दी व घने कोहरे के चलते बूथों पर मतदाताओं की संख्या कम है। शाम पांच बजे तक मतदान के बाद पंचायत मुख्यालयों पर ही मतगणना कर परिणाम घोषित कर दिए जाएंगे। शाम सात बजे से परिणाम जारी होना शुरू हो जाएगा। पंचों का परिणाम देर रात तक जारी होने की संभावना है। श्रीमाधोपुर व खंडेला में 67 सरपंचों 847 वार्ड पंचों के लिए मतदान जारी है। खंडेला इलाके में 248 व श्रीमाधोपुर क्षेत्र में 133 मतदान केन्द्र बनाए गए है।

21 वर्षीय मनीषा बनीं राजस्थान की सबसे कम उम्र की सरपंच, निर्वाचन विभाग ने 3 दिन बाद माना

मौसम बदला
मतदान के दिन मौसम का मिजाज भी बदला गया। सुबह की शुरूआत घने कोहरे के साथ हुई। कोहरा भी जबरदस्त छाया हुआ है कि पांच मीटर देखना भी मुश्किल है। मौसम खुलने के साथ ही मतदात प्रक्रिया रफ्तार पकड़ेगी।

सरपंच, फिर पंच के परिणाम
मतदान के बाद सरपंचों के मतों की गणना पहले की जाएगी। इसके बाद पंच की मतगणना कर परिणाम घोषित किए जाएंगे। सरपंच के परिणाम शाम करीब सात बजे से आने शुरू होंगे। पंचों का परिणाम देर रात तक आने की संभावना है।

पंचायत चुनाव में हारे हुए प्रत्याशी ने जीता सबका दिल, ग्रामीणों ने जुलूस निकालकर किया स्वागत

सुरक्षा जाप्ता मौजूद
पंचायत चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के दौरान कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस के कड़े इंतजाम किए गए हैं।जिले की दो पंचायत समितियों में अतिरिक्त जवानों का जाप्ता तैनात किया गया है। प्रत्येक बूथ पर पुलिस के दो जवान तैनात किए गए हैं। संवेदनशील बूथों पर चार-चार पुलिस कर्मियों का अलग से जाप्ता लगाया गया है।

[MORE_ADVERTISE1]