स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

खुलेआम चोरियां, आखिर चोरों से पुलिस कब डरती रहेगी

Vinod Singh Chouhan

Publish: Sep 21, 2019 18:03 PM | Updated: Sep 21, 2019 18:03 PM

Sikar

परिवार सोता रहा, चोर नकदी-गहने लेकर फुर्र
फतेहपुर के तेलियों के मोहल्ले में चोरी

फतेहपुर. कस्बे में चोर लगातार पुलिस को चुनौती दे रहे हैं। पहले की चोरियों की वारदात का खुलासा भी नहीं हुआ कि चोरों ने फिर एक घर को निशाना बना दिया। गुरुवार रात को चोरों ने तेलियों के मोहल्ले में एक घर को निशाना बना दिया। परिवार घर में नीचे के फ्लोर में सो रहा था। वही चोरों ने ऊपर के दो कमरों के ताले तोडक़र लाखों के सामान पर हाथ साफ कर दिया। जानकारी के अनुसार यासीन तेली का परिवार घर मे नीचे के कमरों में सो रहे थे। ऊपर के दो कमरों में दो भाइयों का सामान रखा था। रात एक बजे यासीन घर आए और सो गए।

इसके बाद सुबह करीब 7 बजे ऊपर गए तो कमरों के ताले टूटे थे और समान बिखरा था। इस पर कोतवाली पुलिस को सूचना दी। कोतवाली पुलिस ने मौका मुआयना किया। यासीन ने बताया कि चोरों ने कमरे में ताले लगी सभी चीजों के ताले तोड़ गए व उनमें रखे रुपये जेवरात चुरा लिए। इसके अलावा पूरे सामान को बिखेर दिया। ऊपर के दोनों कमरों में सोने की बालियां, सोने के कांटे, चांदी की पाजेब सहित करीब 50 हजार रुपये ले गए। चोरे गए सोने चांदी की कीमत एक लाख से अधिक बताई जा रही हैं।
चोरों के वारदात के तरीके से पता चलता है कि चोरों ने फुरसत से वारदात को अंजाम दिया है। चोरों ने पहले कमरों के ताले तोड़े। इसके बाद अंदर पड़ी अलमारियों, बक्सों के ताले तोड़े। ताले तोडऩे के लिए चोर कुल्हाड़ी लेकर आये थे जो बाद में वही छोड़ कर भाग गए। वारदात के लिए चोर घर के सामने की साइड से ऊपर चढ़े। सुबह पड़ताल में चोरों के जूतों के निशान पाए गए। चोरों ने एक एक सामान को खोल कर देखा।
चोरी की वारदातों पर अंकुश लगाने की मांग
कांवट. गांव घसीपुरा में किसानों के खेतों में हो रही नोजल चोरी के मामले में अंकुश लगाने की मांग को लेकर खंडेला एसडीएम को लोगों ने ज्ञापन सौंपा है। ग्रामीण महेन्द्र सिंह खोखर ने बताया कि क्षेत्र में आए दिन किसानों के खेतों से चोर नोजल चोरी कर ले जाते हैं। इस मामल में कई बार थोई थाने में मामला भी दर्ज करवा दिया। इसके बावजूद भी चोरी की वारदाते नहीं रुक रही है। वहीं पुलिस भी चोरी की वारदातों का खुलासा नहीं कर पाई है।