स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

दिल्ली में 92 लाख की लूट का आरोपी राजस्थान में बाइक खरीदते हुए पकड़ा गया

Vinod Singh Chouhan

Publish: Sep 22, 2019 11:53 AM | Updated: Sep 22, 2019 11:53 AM

Sikar

Thieves Gang Arrested by Sikar Police : पुलिस ने तीन वाहन चोरों को गिरफ्तार कर चोरी की नौ बाइकें बरामद की है। चोर महंगी बाइकों को चुरा कर उन्हें मॉडिफाई कर सस्ते में बेच देते थे।

फतेहपुर.

Thieves Gang Arrested by Sikar Police : पुलिस ने तीन वाहन चोरों को गिरफ्तार कर चोरी की नौ बाइकें बरामद की है। चोर महंगी बाइकों को चुरा कर उन्हें मॉडिफाई कर सस्ते में बेच देते थे। चोरी की बाइक खरीदते हुए दिल्ली के पहाडग़ंज में 92 लाख लूट ( 92 Lakh Looted in Delhi ) में शामिल फरार आरोपी को भी गिरफ्तार किया है। डीएसपी फतेहपुर कुशाल सिंह ने बताया कि लगातार हो रही वाहन चोरियों की रोकथाम और गिरोह को पकडऩे के लिए कोतवाल उदय सिंह यादव के नेतृत्व में टीम गठित की। पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर मोमिनपुरा निवासी तैयब पुत्र मोहिदीन, शकील अहमद पुत्र अजीमुदीन व चूरू सेजुसर निवासी रशीद खान पुत्र उम्मेद खान को गिरफ्तार किया। पूछताछ में तैयब ने एक दर्जन से अधिक वारदातें करना स्वीकर किया। तैयब से चार बाइक मिली। तैयब ने मदनी मस्जिद के पास रहने वाले शकील अहमद पुत्र अजीमुदीन को मोटरसाइकिल बेचना बताया। शकील अहमद मोटरसाइकिल रिपेयरिंग का काम करता है। पुलिस को उसके कारखाने में तीन बाइक बरामद हुई। तैयब के घर से पुलिस को चार मोटरसाइकिल मिली। पुलिस को रशीद खान पुत्र उम्मेद खान को मोटर साईकिल खरीदने के मामले में गिरफ्तार किया। तैयब ने रशीद खान को बेची थी जो दुधवा पुलिस ने शराब पीकर गाड़ी चलाने के मामले में पकड़ी थी। सीओ कुशाल सिंह ने बताया कि आरोपियों से गहनता से पूछताछ की जा रही है। आरोपी ने फतेहपुर, लक्ष्मणगढ़ व रामगढ़ इलाके में चोरी की कई वारदातों को अंजाम दिया है। पुलिस पुछताछ में अन्य कई वारदातें खुलने की संभावना है।

यह भी पढ़ें: वसूली के लिए कुख्यात हिस्ट्रीशीटर ने युवक का किया अपहरण, धमकी देकर मांगे 90 हजार रुपए


दिल्ली के पहाडग़ंज में 92 लाख की लूट में आरोपी है रशीद
दिल्ली के पहाडग़ंज इलाके में 20 जून को 92 लाख की लूट हुई थी। राशि हवाला की होने के कारण पीडि़त ने 12 लाख रुपए लूट का मामला दर्ज किया था। पुलिस की जांच में 92 लाख रूपये की लूट होना सामने आया था। लूट की वारदात को रशीद व उसके दो दोस्तों ने मिलकर अंजाम दिया था। पुलिस लूट में शामिल अभिषेक व एक अन्य युवक गिरफ्तार कर चुकी है। रशीद तब से ही फरार चल रहा था। चूरू में पेट्रोल पंप पर लूट व एससी एसटी के मामले में भी रशीद जेल जा चुका है।


मारवाड़ से चुराई बोलेरो से वारदात की
कोतवाल उदयसिंह यादव ने बताया कि तैयब चोरी के मामले में पहले से गिरफ्तार हो चुका है। वह कुछ दिनों पहले ही जेल से छूट कर आया था। पुलिस ने उस पर नजर रखी। टीम में हैड कांस्टेबल इन्तयाज, बीरबल, कांस्टेबल दाउद, कांस्टेबल राकेश, कांस्टेबल जीवराज को शामिल किया। जांच में पता लगा कि वह चार हजार से 15 हजार रूपए में चोरी की बाइक बेच देता है।बीते दो महिनों में दर्जनों वारदातों को अंजाम दे चुका है। उसके पास से चोरी की चार बाइक भी मिली। उसने मारवाड़ जंक्शन से भी एक बोलेरो चुराई। बोलेरो से चोरी की वारदात की गई।

यह भी पढ़ें: घर के बाहर खेल रहे बच्चे को कट्टे में डाल अगवा करने की कोशिश, लोगों ने बदमाशों को पकड़ धुना


दिल्ली पुलिस के जवान भी ट्रेप कराए
करीब दो माह पहले दिल्ली पुलिस की टीम रशीद की तलाश में चूरू आई थी। चूरू में पुलिस ने रशीद को पकड़ लिया। बाद में गिरफ्तारी नहीं दिखाने के मामले में पांच लाख रुपए की मांग की। तब रशीद के पिता ने चूरू एसीबी में शिकायत दी थी। सीआई रमेश माचरा ने दिल्ली पुलिस के एएसआई योगेन्द्रपाल व एक हैड कांस्टेबल व कांस्टेबल को पांच लाख रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया था। दिल्ली कोर्ट से रशीद के गिरफ्तार वारंट निकले हुए थे।