स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मप्र में गर्मी का कहर, इस शहर में आग उगल रहा सूरज पारा 44.4 डिग्री पर पहुंचा

Lalit Kumar Kosta

Publish: May 31, 2019 11:17 AM | Updated: May 31, 2019 11:17 AM

Sihora

मप्र में गर्मी का कहर, इस शहर में आग उगल रहा सूरज पारा 44.4 डिग्री पर पहुंचा

जबलपुर। नौतपा के अब कुछ ही दिन शेष रह गए हैं। आधा नौतपा गुजर चुका है। बाकी बचे दिनों में सूरज से कोई राहत की उम्मीद नहीं है। शुक्रवार को सुबह से ही सूरज के तेवर गर्म हैं। पारा अभी से 35 के पा पहुंच चुका है। धूप इतनी तेज है कि लोग बाहर निकलने से पहले दस बार सोचने को मजबूर हो रहे हैं। कूलर पंखा भी लोगों को गर्मी से राहत नहीं दिला पा रहे हैं।

news facts-

तेज धूप से बढ़ी गर्मी, पारा 44.4 डिग्री पर पहुंचा
सुबह से बादलों का डेरा, गर्मी और उमस ने दिनभर किया बेचैन

वहीं, शहर में गुरुवार को धूप के साथ बादलों ने भी मौसम को बदल दिया। बादल छाए रहने के कारण लोग दिनभर उमस से परेशान रहे। धूप भी असहनीय रही। एक दिन पहले की अपेक्षा अधिकतम तापमान में 0.6 डिग्री सेल्सियस वृद्धि दर्ज की गई। जानकारी के अनुसार अधिकतम तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक 44.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। बादलों के साथ आद्र्रता में कुछ वृद्धि हुई और उमस वाला मौसम बना। रात में भी बादल छाए रहे और गर्मी के असर से लोग परेशान हुए।

शहर में सुबह से ही आसमान पर बादलों का डेरा था। धूप भी तेज हुई। कभी कहीं बादल घने हुए तो धूप से कुछ राहत मिली लेकिन गर्मी से होने वाली परेशानी में कोई खास कमी नहीं आई। अधिकतम तापमान 44.4 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 29.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सुबह की आद्र्रता 40 और शाम की आद्र्रता 21 प्रतिशत रही। शहर के किसी क्षेत्र में बारिश या बंूदाबांदी को रेकॉर्ड नहीं किया गया। मौसम विभाग के वैज्ञानिक सहायक डीके घाटे ने बताया, शहर में गुरुवार को बादल, हवा और धूप तीनों ने गर्मी बढ़ाई। बादल छाए रहे लेकिन बारिश नहीं हुई। 6-8 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चली दक्षिणी हवा के कारण महाराष्ट्र की ओर से गर्म हवाएं आई। वाष्पोत्सर्जन के दौरान नीचे से ऊपर जाने वाली गर्मी बादलों से टकराकर वापस आई।

बारिश का अनुमान
मौसम विभाग ने पूर्वी मप्र के जबलपुर एवं आसपास के क्षेत्रों में लू की स्थिति शुरू होने का अलर्ट जारी किया है। पूर्वी मप्र के ऊपर हवा का चक्रवात बनने के कारण कहीं कहीं गरज चमक और तेज हवा के साथ बारिश या बंूदाबांदी हो सकती है। संभाग के कुछ जिलों में भी बारिश का अनुमान है।