स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

देवरी पहुंची "आपकी सरकार आपके द्वार"

Manoj Kumar Pandey

Publish: Sep 05, 2019 20:33 PM | Updated: Sep 05, 2019 20:33 PM

Sidhi

प्रशासनिक अधिकारी संवेदनशीलता के साथ कार्य करते हुए लोगों को राहत प्रदान करने का कार्य करें- पंचायत मंत्री

सीधी। "आपकी सरकार आपके द्वार" कार्यक्रम का आयोजन जनपद पंचायत सिहावल अंतर्गत ग्राम पंचायत देवरी में बुधवार को किया गया। कार्यक्रम में करीब 467 आवेदन प्राप्त हुए जिनमें से 250 से अधिक आवेदनों को मौके पर ही निराकृत कर दिया गया, शेष आवेदन पत्रों के निराकरण के लिए एक सप्ताह की समय सीमा निर्धारित की गई है।
इस अवसर पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल ने कहा कि लोगों की रोजमर्रा की समस्याओं के स्थानीय स्तर पर निराकरण के लिये "आपकी सरकार आपके द्वार" कार्यक्रम प्रारंभ कर सरकार ने लोगों को राहत प्रदान करने का कार्य किया है। इस कार्यक्रम के कारण लोगों को अब तहसील और जिला मुख्यालय के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे, जिससे उनके समय, श्रम और धन की बचत होगी। पंचायत मंत्री ने प्रशासनिक अधिकारियों को संवेदनशीलता के साथ कार्य करते हुए लोगों की समस्याओं का त्वरित निराकरण कर राहत प्रदान करने के लिए कहा।
घर से विवाह करने पर भी मिलेगा मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना का लाभ-
पंचायत मंत्री पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह योजना अंतर्गत सहायता राशि को बढ़ाकर 51 हजार रुपए कर दिया है, जिसमें से 48 हजार रुपए सीधे कन्या के खाते में प्रदाय की जाती है। अब इसका लाभ सामूहिक विवाह के अलावा घर से विवाह करने पर भी मिलेगा, जिसके लिए स्थानीय निकायों में पंजीकरण कराना अनिवार्य होगा। इसी प्रकार इंद्रा ज्योति गृह योजना अंतर्गत 100 यूनिट तक बिजली की खपत करने वाले परिवारों को मात्र 100 रुपए का ही बिजली का बिल जमा करना होगा। गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले अनुसूचित जाति और जनजाति वर्ग के उपभोक्ताओं को 100 यूनिट तक की बिजली खपत पर मात्र 25 रुपए का बिल ही जमा करना होगा। पंचायत मंत्री ने कहा कि सभी मजऱो टोलों के विद्युतीकरण का कार्य किया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में निर्वाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए खोंचीपुर में 11 केवीए का विद्युत सब स्टेशन का निर्माण किया जा रहा है। लगभग 2 करोड़ रुपए लागत के सब स्टेशन का निर्माण शीघ्र प्रारंभ होगा।
स्वसहायता समूहों को बनाया जाएगा स्वावलंबी-
स्वसहायता समूह के सदस्यों को सामुदायिक निवेश निधि और चक्रीय राशि को वितरित करते हुए पंचायत मंत्री पटेल ने कहा कि स्वसहायता समूहों को स्वावलंबी बनाने के लिए सरकार द्वारा वित्तीय सहायता प्रदान की जा रही है। स्वसहायता समूह ने ग्रामीण क्षेत्रों में आर्थिक स्वावलंबन के क्षेत्र में सराहनीय कार्य किया है। उन्होंने इस राशि का सदुपयोग करने तथा परिवार और समाज की प्रगति में सहभागिता के लिए स्वसहायता समूह की महिलाओं का आह्वान किया। पंचायत मंत्री ने कहा कि पंचायतीराज संस्थाओं को अधिकार संपन्न बनाने के लिए सरकार निरंतर कार्य कर रही है। मेंटिनेंस के कार्यों के लिये ग्रामपंचायतों की सीमा में वृद्धि करते हुये 50 हजार रुपये कर दिया गया है। इसी प्रकार निर्माण कार्यों में सीमा को बढ़ाते हुये 20 लाख रुपये कर दिया गया है। ग्राम पंचायतों को शीघ्र ही कॉंजी हाउस निर्माण की अनुमति भी प्रदान की जाएगी।
जल, जंगल, जमीन की रक्षा के लिए सामुदायिक प्रयास आवश्यक-
इस अवसर पर ग्राम पंचायत परिसर में फलदार पौधों का रोपण करते हुए पंचायत मंत्री पटेल ने कहा कि आज हम जिन संसाधनों का दोहन कर रहे हैं हमारे पूर्वजों की देन है। यह हम सब की सामूहिक जिम्मेदारी है हम अपने भावी पीढ़ी के लिये पर्यावरण को संरक्षित करने का कार्य करें। अधिक से अधिक पौधों को लगायें तथा उनकी रक्षा करें। हमें जल के स्त्रोतों तालाब, नदियों को सुरक्षित रखने की आवश्यकता है। सरकार इस क्षेत्र में प्रयास कर रही है, लेकिन यह जन सहयोग के बिना सम्भव नहीं है। इस अवसर पर पंचायत मंत्री ने इस दिशा में सभी से सामूहिक प्रयास के लिए आह्वान किया।
कलेक्टर रवींद्र कुमार चौधरी ने मंत्री जी को आश्वस्त किया कि सरकार की मंशानुसार प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा पूरी तत्परता से नागरिकों की समस्याओं का निराकरण करने का कार्य किया जाएगा। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को अधिक से अधिक क्षेत्र का भ्रमण कर लोगों की समस्याओं का निराकरण करने के निर्देश दिए। उन्होंने स्पष्ट किया कि नागरिकों की समस्याओं का स्थानीय स्तर पर ही निराकरण किया जाए, कोई भी पात्र हितग्राही लाभ से वंचित नहीं रहना चाहिये, यह हम सब की जिम्मेदारी है।
हितग्राहियों को किया गया लाभांवित-
शिविर में 4 हितग्राहियों को मुख्यमंत्री जनकल्याण (नया सवेरा) योजना अंतर्गत 2 लाख रुपये प्रत्येक के मान से 8 लाख रुपये की सहायता राशि वितरित की गई। राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना अंतर्गत 12 हितग्राहियों को 20 हजार रुपये प्रत्येक के मान से 2 लाख 40 हजार रुपये की आर्थिक सहायता वितरित की गयी। 70 स्वसहायता समूहों को चक्रीय निधि राशि 8 लाख 34 हजार रुपये वितरित किए गए। 39 स्वसहायता समूहों को सामुदायिक निवेश निधि राशि 29 लाख 25 हजार रुपये वितरित किए गए। स्वास्थ्य शिविर में 400 से अधिक व्यक्तियों की जांच कर नि:शुल्क दवाइयों का वितरण किया गया। इसके साथ ही 3 व्यक्तियों के नि:शक्तता प्रमाणपत्र प्रदान किया गया। शिविर में 2 पात्र हितग्राहियों के दिव्यांग पेंशन को स्वीकृत किया गया। शिविर में हितग्राहियों को ऋ ण पुस्तिका तथा लाड़ली लक्ष्मी प्रमाण पत्र वितरित किए गए। विद्यालयीन छात्रों को नि:शुल्क साइकिलों का वितरण किया गया।
इनकी रही उपस्थिति-
कार्यक्रम में जनपद अध्यक्ष सिहावल श्रीमान सिंह, रूद्र प्रताप सिंह, राम नारायण सिंह, शारदा सिंह, नरेंद्र सिंह, अंबिकेश पांडेय, ज्ञानेंद्र द्विवेदी, हरिहर गोपाल मिश्रा, दिनेश द्विवेदी, परमजीत पांडेय सहित जनप्रतिनिधि गण, पुलिस अधीक्षक आरएस बेलवंशी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत एबी सिंह, वनमंडलाधिकारी बृजेंद्र झा, उपखंड अधिकारी सिहावल आरके सिन्हा सहित अधिकारी, कर्मचारी एवं ग्रामीणजन उपस्थित रहे।