स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एक छोटे से हाल संपन्न हो गया आपकी सरकार आपके द्वारा कार्यक्रम

Manoj Kumar Pandey

Publish: Sep 06, 2019 20:10 PM | Updated: Sep 06, 2019 20:10 PM

Sidhi

प्रचार-प्रशार के अभाव में पहुंचे महज मुट्ठी भर लोग, मझौली विकासखंड के उमरिया मे हुआ आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन

सीधी/पथरौला। प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही महत्वाकांक्षी योजना आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम का खंड स्तरीय आयोजन विगत शुक्रवार को आदिवासी जनपद पंचायत कुसमी के ग्राम पंचायत भवन उमरिया के एक हाल मे किया गया। इस आयोजन मे पांच ग्राम पंचायतों को शामिल किया गया था। जिसमें खरबर, डेवा, दुबरीकला, चिनगवाह और उमारिया को शामिल किया गया था। किंतु प्रशासन द्वारा व्यापक प्रचार प्रसार नहीं किए जाने के कारण उक्त आयोजन मे मुट्ठी भर ग्रामीण ही अपनी समस्याओं को लेकर कार्यक्रम स्थल तक पहुंच सके। ग्रामीणों मे ये चर्चा रही की समास्याएं तो बहुत हैं, लेकिन जानकारी के अभाव मे ग्रामीणजन नहीं पहुंच सके हैं। कार्यक्रम के दौरान कुल 12 आवेदन आए, जिसमे कुल 10 आवेदनों का निराकरण मौके पर किया गया। वहीं एक आवेदन बिजली विभाग तथा एक राजस्व विभाग को भेजा गया है और दोनो आवेदनों का निराकरण 7 दिवस के भीतर निराकृत करने का आश्वासन दिया गया है।
कार्यक्रम के दौरान प्रशासनिक अमला मे नायब तहसीलदार कुसमी मणिराज सिंह, महिला बाल विकास अधिकारी कुसमी सुभावान, सामाजिक सुरक्षा अधिकारी प्रदीफ द्विवेदी, पीएचई एसडीओ पीआर कुम्हार,आजीविका मिशन से सौरभ सिंह, सेवा सहकारी बैंक प्रबंधक आरपी तिवारी, समिति प्रबंधक चिनगवाह राजेश सिंह, वीपेंद्र सिंह पोंड़ी, उपयंत्री बद्री प्रसाद भास्कले, शिक्षा विभाग से विनीत शुक्ला, आरएईआओ एमपी त्रिपाठी, पंचायत समन्वयक अनिल सिंह, बंशबहादुर सिंह, शिवरतन सिंह, पशु चिकित्सक डॉ.प्रशांत सिंह, पटवारी अरुण प्रताप सिंह, विनोद दीवान, रामबहोर कोल, सरपंच मुन्नी बाई, सरपंच पिपराही राजकुमार सिंह, सचिव संतोष पनिका, रोजगार सहायक सुनीत शुक्ला सहित आसपास के सरपंच सचिव व ग्रामीण उपस्थित रहे।
नहीं दिखे अधिकारी व जनप्रतिनिधि-
सरकार द्वारा चलाए जा रहे इस खंड स्तरीय आयोजन मे जहां खंड स्तरीय अधिकारियों की उपस्थिति नहीं रही है। वहीं क्षेत्रिय जनप्रतिनिधि भी नजर नहीं आए। जबकि जिले मे इस आयोजन की शुरुआत प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल द्वारा भव्यतापूर्ण कार्यक्रम के साथ जनप्रतिनिधियों सहित प्रशासनिक अधिकारियों की उपस्थिति मे किया गया था। लेकिन सरकार की इस योजना पर भी अधिकारियों की मनमानी के चलते पानी फिरता दिखाई दे रहा है और इसी का नतीजा है कि जानकारी के अभाव मे ऐसे आयोजन मे महज मु_ीभर लोग अपनी समस्याएं लेकर पहुंचते हैं।