स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

विश्व हिंदू परिषद व बजरंग दल ने मनाया अखंड भारत संकल्प दिवस

Manoj Kumar Pandey

Publish: Aug 12, 2019 21:44 PM | Updated: Aug 12, 2019 21:44 PM

Sidhi

2020 में अयोध्या में बनेगा भगवान रामचंद्र का भव्य मंदिर- सागर

सीधी। विश्व हिंदू परिषद सीधी द्वारा अखंड भारत संकल्प दिवस कार्यक्रम का आयोजन स्थानीय शहर के गायत्री मंदिर परिसर में किया गया। भारत के स्वर्णिम गौरव की पुर्नस्थापना की कामना हेतु प्रतिवर्ष के अनुसार इस वर्ष भी अखंड भारत संकल्प दिवस भव्यता पूर्वक मनाया गया।
अखंड भारत संकल्प दिवस के मुख्य अतिथि पूज्य संत स्वामी परमानंद महाराज धर्म समन्वयक विभाग संयोजक विश्व हिंदू परिषद् रीवा विभाग, अध्यक्षता विहिप के जिलाध्यक्ष रामराज शुक्ला तथा मुख्य वक्ता विश्व हिंदू परिषद महाकौशल प्रांत के प्रांत सह मंत्री सागर गुप्ता रहे। कार्यक्रम के शुभारंभ में भगवान श्रीरामचंद्र जी का दरबार, भारत माता की प्रतिमा तथा गायत्री माता की दिव्य प्रतिमा पर आमंत्रित अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवल एवं पुष्प अर्पण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। तदोपरांत गणेश वंदना, तीन बार प्रणवोच्चार, एकात्मता मंत्र, विजय महामंत्र 13 बार श्रीराम जय राम जय जय राम के साथ सात बार सामूहिक रूप से उपस्थित जन समुदाय द्वारा हनुमान चालीसा का पाठ किया गया। कार्यक्रम में अतिथियों का स्वागत विश्व हिंदू परिषद के कोषाध्यक्ष राजेंद्र सोनी जिला मठ मंदिर प्रमुख गोरेंद्रधर द्विवेदी द्वारा श्रीराम नामी गम्छे से स्वागत किया गया। इस अवसर पर स्वामी परमानंद महाराज ने कहा कि भारत की एकता और अखंडता को कायम रखने की जिम्मेदारी संपूर्ण हिंदू समाज की है। अखंड भारत को खंडित करने का कुचक्र चाल कुछ राजनैतिक व्यक्तिगत चाल स्वार्थ के कारण अलग-अलग हिस्सों में आजादी के पहले बांट दिया गया। हिंदुस्तान सनातन संस्कृत का परिचायक है, और हिंदू राष्ट हजारों वर्ष पहले ही हिंदुत्व का उदय हुआ था, इसके बाद स्लाम का उदय हुआ। भारत वर्ष में कोई भी वर्तमान के मुसलमान मुसलमान नहीं है, वे सभी पूर्व के हिंदू वंशज हैं। हिंदुस्तान पूरे देश का आज भी मार्गदर्शन करता है और करता रहेगा। मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित सागर गुप्ता ने कहा कि भारत के विभाजन से हमारे कई अभिन्न अंग, बंग्लादेश, पाकिस्तान, पीओके, भारत के अभिन्न अंग थे, इन्हें एक सूत्र में पिरोने का कार्य संतो के मार्गदशन में विश्व हिंदू परिषद कर रहा है। बंटवारे के समय तत्कालीन प्रधानमंत्री 24 प्रतिशत मुस्लिम आबादी के लिए 29 प्रतिशत भू-भाग मुस्लिम तुष्टिकरण के कारण दे दिया गया था यह देश का दुर्भाग्य था। असल में जो स्वतंत्रता के समय भगत सिंह, राजगुरू, चंद्रसेखर आजाद जैसे क्रांतिकारियों ने जो सपना देखा था उस सपने का वर्तमान सरकार ने धारा 370, 35ए को समाप्त कर भारत के सिरमौक उज्वलित किया है। भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर का निर्माण 2020 में चाहे फैसला जो भी हो पक्ष में होगा तो स्वागत नहीं तो संसद में कानून बनाकर अयोध्या में भगवान रामलला विराजमान होंगे। कार्यक्रम के अंत में जिला मंत्री पुजेरीलाल मिश्र के साथ अध्यक्षीय उद्बोधन विहिप के जिलाध्यक्ष रामराज शुक्ला ने किया। कार्यक्रम का समापन शांति मंत्र पाठ एवं जयघोष के साथ प्रसाद वितरण कर किया। उक्त अवसर पर प्रमुख रूप से विहिप के जिला कार्याध्यक्ष गणेश सिंह परिहार, संरक्षक सुरेश गुप्ता, उपाध्यक्ष रमेश त्रिपाठी एवं सुशील अग्रवानी, कोषाध्यक्ष राजेंद्र सोनी, जिला संयोजक विश्वरंजन प्रताप सिंह, सह संयोजक शरद गौतम, पूर्व जिला संयोजक केशराज सिंह, भाजपा नेत्री सुनीतारानी वर्मा, आशा शुक्ला, सरस्वती बहेलिया, मीनाक्षी मिश्रा, दीपिका सिंह चौहान, राधिका सोनी, रमा यादव, सुमित जायसवाल, नरेंद्र केशरवानी, आयुष्मान सिंह, सुखचंद्र शुक्ला, मुनिराज विश्वकर्मा, नागेश्वर द्विवेदी, शेष मिश्रा, अशोक गुप्ता, गोरेंद्रधर द्विवेदी सहित नगर के गणमान्य नागरिक एवं विहिप पदाधिकारी उपस्थित रहे।