स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बाणसागर बांध के खोले गए दस गेट

Manoj Kumar Pandey

Publish: Sep 13, 2019 21:09 PM | Updated: Sep 13, 2019 21:09 PM

Sidhi

प्रति सेकेंड छोड़ा जा रहा 4114 क्वीविक मीटर पानी, एसडीएम चुरहट ने जारी किया हाई एलर्ट, सोन नदी के किनारे जाने से लोगों को किया गया मना, बाण सागर बांध का गेट खुलने से उफान पर आई सोन नदी, क्षमता के विरूद्ध बांध में 94 प्रतिशत हो चुका है जलभराव

सीधी। विंध्य क्षेत्र में लगातार जारी बारिश के दौर के कारण सोन नदी में बने बाणसागर बांध में क्षमता के विरूद्ध करीब 94 प्रतिशत जल भराव होने व पानी का इन्फो लगातार जारी रहने से बांध के दस गेट खोल दिए गए हैं। बांध का गेट खोले जाने से सोन नदी उफान पर आ गई है। सोन नदी का जल स्तर से बढऩे से एसडीएम चुरहट राजेश मेहता द्वारा सोननदी के तटवर्ती क्षेत्रों मेंं हाई अलर्ट जारी किया गया है। लोगों से अपील की गई है कि वह नदी के तट पर न जाएं।
विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बाण सागर बांध की जल भराव क्षमता 5429 मीलियन क्वीविक मीटर है। जिसके विरूद्ध करीब 94 प्रतिशत जल का भराव बांध में हो चुका है। बारिश के कारण लगातार पानी के आवक के कारण बांध के दस गेट खोले दिए गए हैं, ये गेट तब तक खुले रहेंगे जब तक बांध में पानी की आवक जारी रहेगी।
शुक्रवार की सुबह खोले गए गेट-
बांध में जल भराव ज्यादा होने के कारण शुक्रवार की सुबह करीब 8 बजे दस गेट खोल दिए गए। इसके पहले ही सीधी जिले के सोन नदी के तटीय क्षेत्रों में एसडीएम चुरहट राजेश मेहता द्वारा हाई अलर्ट जारी कर दिया गया था। लोगों से अपील की गई थी कि वह सोन नदी के किनारे न जाएं, क्योंकि अचानक नदी का जल स्तर बढऩे से डूबने की आशंका बढ़ गई थी।
बिजली की चारो यूनिट शुरू-
बाणसागर बांध से संबंधित बिजली उत्पादन की चारो युनिट शुरू हो गई हैं, जहां विद्युत का उत्पादन किया जा रहा है। विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार चारो यूनिट फुल क्षमता के साथ चालू हैं, जिसमें बाणसागर, सिलपरा, झिन्ना तथा टोंस विद्युत यूनिट शामिल है। बताया गया कि बाणसागर बांध की विद्युत यूनिट में 425 मेगावाट विद्युत उत्पादन किया जा रहा है, जबकि तीन से चार दिन पूर्व तक यहां करब ६० मेगावाट यूनिट विद्युत उत्पादन किया जा रहा था।