स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

वन स्टाप सेेंटर से दबे पांव भाग निकली किशोरी, जानिए क्या है मामला

Manoj Kumar Pandey

Publish: Sep 15, 2019 21:05 PM | Updated: Sep 15, 2019 21:05 PM

Sidhi

घर से भाग कर निकली थी किशोरी, चाइल्ड केयर यूनिट की टीम द्वारा वन स्टाप सेंटर में रखा गया था, माता-पिता ने भी घर ले जाने से किया इंकार, शनिवार की अलसुबह चुपचाप निकल गई किशोरी, वन स्टाप सेंटर के कर्मचारियों द्वारा सिटी कोतवाली में की गई मामले की शिकायत

सीधी। वन स्टाप सेंटर (सखी)से दबे पांव एक किशोरी भाग निकली और वहां के केयर टेकर तथा सुरक्षा गार्ड को इसकी हवा तक नहीं लग पाई। बाद में पता चला तो सुरक्षा गार्ड उसकी तलाश में निकला लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला। यह वाकया शनिवार की सुबह करीब 6 बजे का है। वन स्टाप सेंटर की प्रशासक सरस्वती तिवारी द्वारा मामले की शिकायत सिटी कोतवाली में किए जाने के साथ ही पुलिस अधीक्षक सीधी, बाल कल्याण समिति सीधी एवं जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग को भी दी गई है।
बताया गया कि 12 सितंबर की रात करीब 8.30 बजे बहरी थानांतर्गत पोंड़ी निवासी 16 वर्षीया एक किशोरी घर से भाग गई थी, जिसे चाइल्ड लाइन केयर यूनिट सीधी कांउसलर प्रीतू सिंह चौहान द्वारा जिला मुख्यालय में संचालित वन स्टाप सेंटर में लाया गया। जहां पूंछतांछ चलने पर पता चला कि किशोरी अपने घर से भाग कर आई है एवं साथ में अपने कपड़े बैग एवं कुछ आवश्यक बस्तुएं भी ली है। दूसरे दिन 13 सितंबर को बाल कल्याण समिति द्वारा किशोरी का कथन लिया गया, और उसके परिजनों से बात की गई, तथा सुपुर्दगी हेतु परिजनों को 14 सितंबर को वन स्टाप सेंटर में बुलाया गया था। किशोरी 12 सितंबर की रात एवं 13 सितंबर को दिन व रात वन स्टाप सेंटर में रूकी रही। वह अपने घर नहीं जाना चाहती थी। वन स्टाप सेंटर में 14 सिंतबर शनिवार को सुबह 6.15 बजे दो केयर टेकर इंदू तिवारी एवं दुर्गा सोनी तथा सुरक्षा गार्ड राजेश तिवारी से नजर बचाकर दबे पांव भाग गई। कुछ देर बाद जब वन स्टाप सेंटर में वह नजर नहीं आई तो उसकी तलाश शुरू की गई। सुरक्षा गार्ड ने आस-पास जाकर उसकी तलाश किया लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला। इधर किशोरी के परिजनों से बात करने पर उन्होंने कहा कि वह मनमानी करती है, इसलिए हम उसे अपने घर नहीं ले जाएंगे। किशोरी के वन स्टाप सेंटर से भाग जाने की शिकायत प्रशासक द्वारा लिखित तौर पर अग्रिम कार्रवाई हेतु सिटी कोतवाली में की गई है। जिसकी प्रतिलिपि सूचनार्थ पुलिस अधीक्षक सीधी, बाल कल्याण समिति सीधी एवं जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग को भी दी गई है।
सामने आई बड़ी लापरवाही-
घर से प्रताडि़त होकर तथा भाग कर आने वाली महिलाओं एवं किशोरी को रखकर काउंसलिंग करने के लिए वन स्टाप सेंटर खोला गया है, जहां केयर टेकर के साथ ही सुरक्षा गार्ड भी तैनात किए गए हैं, उनके बीच से किशोरी का दबे पांव भाग जाना बड़ी लापरवाही को दर्शाता है। किशोरी के वन स्टाप सेंटर से भाग जाना यह प्रदर्शित करता है कि सुरक्षा को लेकर वन स्टाप सेंटर में चूक हो रही है।
की जा रही है तलाश-
सुरक्षा में किसी तरह की चूक नहीं की गई है, वह घर से भाग कर आई थी, और यहां से भी भागने की फिराक में थी, हमे इसका अंदाजा नहीं था और वह सुबह-सुबह दबे पांव निकल गई। हम लोग उसकी तलाश अपने स्तर से करने के साथ ही सिटी कोतवाली को सूचित कर दिए हैं।
सरस्वती तिवारी
प्रशासक, वन स्टाप सेंटर (सखी) सीधी
लापरवाहों पर होगी कार्रवाई-
वन स्टाप सेंटर से किशोरी का भाग जाना वन स्टाप सेंटर के स्टाफ की लापरवाही प्रदर्शित करता है, अभी यह मामला मेरे संज्ञान में नहीं है, पता करता हूं, यदि ऐसी लापरवाही हुई है तो संबंधित के विरूद्ध कार्रवाई को लेकर कलेक्टर के समक्ष प्रतिवेदन प्रस्तुत किया जाएगा।
अवधेश सिंह
जिला कार्यक्रम अधिकारी, महिला एवं बाल विकास विभाग सीधी