स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम का पोड़ी में आयोजन, लोगों की समस्याओं का मौके पर ही अधिकारियों ने किया निराकरण

Anil Singh Kushwaha

Publish: Aug 22, 2019 18:31 PM | Updated: Aug 22, 2019 18:31 PM

Sidhi

नागरिकों की रोजमर्रा की शिकायतों का किया निराकरण

सीधी. नागरिकों की रोजमर्रा की समस्याओं के तत्काल निराकरण के लिए जिले के दूरस्थ अंचल जनपद पंचायत कुसमी अंतर्गत ग्रामपंचायत पोड़ी में 'आपकी सरकार आपके द्वारÓ कार्यक्रम मंगलवार को आयोजित किया गया। कार्यक्रम में पोड़ी अंचल से आए आवेदकों ने अपनी रोजमर्रा की समस्याओं से अवगत कराया। उनके आवेदनों पर प्रभारी कलेक्टर डीपी वर्मन तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत एबी सिंह द्वारा संवेदना के साथ सुनते हुए उनका मौके पर ही निराकरण किया गया।

कार्यक्रम का अधिक से अधिक लोगों को मिले लाभ
विधायक धौहनी कुंवर सिंह टेकाम ने कहा कि सरकार ने लोगों को राहत प्रदान करने तथा उनकी रोजमर्रा की समस्याओं के निराकरण के लिए आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम प्रारंभ किया है। इन शिविरों का प्रभावी क्रियान्वयन होना चाहिए जिससे गरीब जनता को अधिक से अधिक लाभ मिले। उन्होंने कहा कि गरीब जनता को अपने छोटे-छोटे कामों के लिए तहसील और जिला कार्यालय का चक्कर नहीं लगाए इसलिए इन शिविरों के माध्यम से जनता को अधिक से अधिक राहत प्रदान करने का कार्य करें।

लंबित मामलों का निराकरण से लोगों को मिली छुट्टी
शिविरों में सभी अधिकारी अपने-अपने योजनाओं से संबंधित प्रारूपों सहित उपस्थित रहें जिससे लोगों को योजनाओं से लाभान्वित किया जा सके। सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रकरणों में जीरो टालेरेंस की नीति अपनाने की आवश्यकता है। सभी पात्र लोगों को पेंशन योजनाओं का लाभ मिलें ऐसी व्यवस्था की जानी चाहिए। कई पेंशन योजनाओं के लिए बीपीएल की अनिवार्यता नहीं है, इसके विषय में लोगों को जागरूक करें जिससे लोगों को सहज रूप से लाभ प्राप्त हो सके। उन्होंने कहा कि ऐसे शिविरों में मेडिकल बोर्ड भी उपस्थित रहे जिससे नि:शक्त व्यक्तियों को इसका लाभ मिल सके और उन्हें जिला चिकित्सालय के चक्कर नहीं लगाना पड़े।

39 प्रकरणों का मौके पर हुआ निराकरण
शिविर में प्राप्त 118 आवेदनों में से 39 को मौके पर ही निराकृत किया गया, शेष आवेदनों निराकरण के लिए समय-सीमा निर्धारित की गयी है। शिविर में 14 व्यक्तियों को ऋण पुस्तिका का वितरण किया गया। इसके साथ ही 3 गरीब आवेदकों का परीक्षण कर गरीबी रेखा में उनके नाम दर्ज किए गए। 2 वर्ष से लकवा से पीढि़त गरीब हिंछलाल बसोर को 5 हजार रुपए तथा भालू के काटने से घायल रामा बैगा को 3 हजार रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गयी। इसके पूर्व सद्भावना दिवस के अवसर पर अधिकारियों-कर्मचारियों ने जाति, संप्रदाय, क्षेत्र, धर्म और भाषा का भेदभाव किए बिना एकता, सद्भावना से कार्य करने और हिंसा का सहारा लिए बिना बातचीत और संवैधानिक माध्यमों से सभी प्रकार के मतभेद सुलझाने की शपथ ली। इस अवसर पर जनपद अध्यक्ष कुसमी हीराबाई सिंह, उपखंड अधिकारी कुसमी सुधीर कुमार बेक, आनंद सिंह, प्रदीप सिंह सहित जनप्रतिनिधिगण, ग्रामवासी एवं विभिन्न विभागों के जिलास्तरीय एवं खण्ड स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।