स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

धोखाधड़ी के फरार आरोपी को घेराबंदी कर पुलिस ने दबोचा

Manoj Kumar Pandey

Publish: Jan 17, 2020 11:36 AM | Updated: Jan 17, 2020 11:36 AM

Sidhi

आरोपी पर हैं जालसाजी के कई संगीन आरोप

सीधी/मझौली। पुलिस थाना मझौली अंतर्गत ग्राम नेबूहा निवासी शरद सिंह द्वारा एक वर्ष पूर्व प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी जिसमें आरोप था कि रामपाल सिंह पिता मोतीलाल सिंह चौहान निवासी छिरौहीं पुलिस थाना जमोड़ी पार्टनरशिप में ठेकेदारी का कार्य करते थे उसी दौरान शिकायतकर्ता का चेक बुक जिसमें हस्ताक्षर युक्त सभी कोरे चेक थे जिसे आरोपी द्वारा गायब कर दिया गया था। तत्पश्चात अपने सगे संबंधियों के चेक में राशि व नाम दर्ज कर बैंक में ड्रावल के लिए जमा किए गए थे जिसकी जानकारी होने पर शिकायतकर्ता द्वारा प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। शिकायत के आधार पर धोखाधड़ी एवं फर्जी कूट रचित दस्तावेज तैयार करने जैसे संगीन अपराध के तहत भारतीय दंड संहिता की धारा 403, 406, 408, 420,120 बी, 465, 467, 468 के तहत मामला दर्ज किया गया था एवं आरोपी एक वर्ष से फरार था, जिसकी पुलिस को तलाश थी। थाना प्रभारी अजय सिंह द्वारा मुखबिर की सूचना पर मझौली स्थित चुवाही मोहल्ला में होंडा मोटरसाइकिल एजेंसी के पास से 1६ जनवरी को घेराबंदी करके शाम 4.३0 बजे आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। बताते चलें कि जब से थाना प्रभारी का जिम्मा अजय सिंह को मिला है उनके द्वारा फरार आरोपियों को गिरफ्तार करने के मिशन को प्राथमिकता देते हुए कड़ी मशक्कत की जा रही है, जिसका नतीजा है कि वर्ष भर के कई फरार आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल के सलाखों में डाला गया है।
..................आरोपी को मुखबिर की सूचना पर मझौली के होंडा एजेंसी के पास से घेराबंदी करके गिरफ्तार किया गया है जिसके ऊपर धोखाधड़ी के तहत एक वर्ष पूर्व से मामला पंजीबद्ध था और वह फरारी में चल रहा था।
अजय सिंह
थाना प्रभारी, मझौली

[MORE_ADVERTISE1]