स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अब केवल नल कनेक्शनधारियों को टैंकर से जलापूर्ति की सुविधा

Manoj Kumar Pandey

Publish: Aug 19, 2019 13:37 PM | Updated: Aug 19, 2019 13:37 PM

Sidhi

बारिश के मौसम में भी पेयजल समस्या से जूझ रहे शहरवासी, कई मुहल्लों में व्याप्त है पेयजल संकट, पर्याप्त बारिश न होने से निजी ट्यूबवेल व हैंडपंप पानी की जगह उगल रहे हवा, महज दो टैंकरों के भरोसे शहर के 24 वार्डों में पेयजल सप्लाई

सीधी। भले ही प्रदेश के कई जिलो में लगातार बारिश के कारण जनजीवन प्रभावित हो गया हो, लेकिन सीधी जिला मुख्यालय में अल्पवर्षा के कारण गर्मी के मौसम में नीचे खिसका जल स्तर तक ऊपर नहीं आया है, जिसके चलते सीधी शहर के ट्यूबवेल व हैंडपंप बारिश के मौसम में भी पानी की जगह हवा उगल रहे हैं। इधर नगर पालिका द्वारा बारिश का मौसम शुरू होते ही टैंकरों के माध्यम से शहर के विभिन्न मुहल्लों में की जाने वाली पेयजल सप्लाई बंद कर दी गई है, अब केवल ऐसे लोगों के यहां नपा द्वारा टैंकर के माध्यम से पेयजल सप्लाई की जा रही है, जो नल कनेक्शनधारी हैं और पाइप लाइन टूटने व किसी अन्य कारण से नल के माध्यम से उनके घरों तक पेयजल नहीं पहुंच पा रहा है। लिहाजा शहर के विभिन्न मुहल्लों में बारिश के मौसम मेें भी पेयजल की किल्लत बनी हुई है। कई मुहल्लों में तो पानी के लिए लोगों को काफी दूर जाना पड़ रहा है।
उल्लेखनीय है सीधी शहर के लिए प्रस्तावित करीब 18 करोड़ की नवीन सीधी जल प्रदाया योजना का निर्माण कार्य छ: वर्ष बीत जाने के बाद पूर्ण नहीं हो पाया है। वहीं शहर की पुरानी नल जल योजना शहर पूरी तरह से छतिग्रस्त हो चुकी है, लगातार शहर में हुए निर्माण कार्यों के कारण पाइप लाइन टूट चुकी है, लिहाजा पुरानी नल जल योजना के माध्यम से महज करीब ३० फीसदी कनेक्शनधारियों के यहां ही पेयजल पहुंच पा रहा है।
अल्पवर्षा के कारण नहीं उठा जल स्तर-
इस वर्ष जनवरी के मौसम में ही शहर का जल स्तर काफी नीचे चला गया था, जिसके चलते विभिन्न मुहल्लों के निजी ट्यूबवेल व हैंडपंप पानी की जगह हवा उगलने लगे थे। ऐसी स्थिति में नगर पालिका द्वारा शहर में करीब 9 की संख्या में टैंकर लगाकर पानी की सप्लाई शुरू की गई थी, हलांकि इन नौ टैंकरों के माध्यम से भी शहर के 24 वार्डों में पर्याप्त पानी नहीं पहुंच रहा था, लेकिन दूसरे व तीसरे दिन भी पानी पहुंचने से लोग किसी तरह काम चला रहा थे। लेकिन जुलाई माह समाप्त होते ही नपा द्वारा पेयजल सप्लाई के लिए लगाए गए अतिरिक्त टैंकरों से शहर में पानी की सप्लाई बंद कर दी गई। इधर इस वर्ष शहरी क्षेत्र में हुई अल्प वर्षा के कारण शहर का जल स्तर ऊपर नहीं उठा और निजी ट्यूबवेल व हैंडपंप जो बारिश के मौसम में पानी देने लगते थे, वो अभी भी पानी की जगह हवा ही उगल रहे हैं, लिहाजा शहर में पानी की किल्लत अभी भी बनी हुई है।
पेयजल सप्लाई में लगाए गए महज दो टैंकर-
नगर पालिका परिषद सीधी के पास स्वयं के केवल दो ही टैंकरों की व्यवस्था है, गर्मी के मौसम में पानी की किल्लत को देखते हुए टेंडर के आधार पर शहर में पेयजल सप्लाई के लिए अतिरिक्त टैंकर लगवाए जाते हैं। इस वर्ष गर्मी के मौसम में करीब आधा दर्जन अतिरिक्त टैंकर शहर में पेयजल सप्लाई के लिए लगाए गए थे, लेकिन गर्मी का मौसम समाप्त होते ही यानि जुलाई माह से इनका टेंडर समाप्त होने से ये टैंकर हटा लिए गए हैं, ऐसी स्थिति में नपा के महज दो टैंकरों के माध्यम से शहर में पेयजल सप्लाई की जा रही है। इतनी कम संख्या में टैंकर की उपलब्धता होने के कारण नपा द्वारा ऐसे लोगों व मुहल्लों को चिन्हित कर पेयजल सप्लाई टैंकर माध्यम से की जा रही है, जिनके द्वारा नल का कनेक्शन तो लिया गया है, लेकिन पाइप लाइन टूटने सहित अन्य कारणों से उनके घरों में पानी नहीं पहुंच रहा है।
रहवासियों ने सुनाया दर्द-
.........शहर की पुरानी नल जल योजना पूरी तरह से पाइप लाइन जर्जर होने के कारण ठप हो चुकी है, नवीन नल जल योजना पता नहीं कब पूरी होगी, पूरे शहर में पानी की किल्लत बनी हुई है, पता नहीं जिम्मेदार क्या कर रहे हैं।
मुन्नी सोंधिया
.......दो वर्ष में नवीन नल जल योजना पूरी होनी थी, लेकिन छ: वर्ष बीत गए अभी तक काम पूरा नहीं हो पाया। नवीन नल जल योजना को पूरा कराने में अधिकारी गंभीरता नहीं दिखा रहे हैं।
अंबिका द्विवेदी
........जिला मुख्यालय मेें ही हम लोग पेयजल की समस्या से जूझ रहे हैं, ग्रामीण अंचलों की क्या स्थिति होगी इसका अंदाजा लगाया जा सकता है। पुरानी नल जल योजना की पाइप लाइने टूट चुकी हैं, नई योजना अभी शुरू नहीं हो पाई।
खुशीलाल कुशवाहा
..........इस वर्ष शहरी अंचल में बारिश कम होने से जल स्तर नहीं उठा, निजी ट्यूबवेल व हैंडपंपों में अभी भी पानी नहीं आ रहा है। पेयजल को लेकर हम शहरवासी काफी परेशान है। सरकार व प्रशासन बुनियादी सुविधा ही उपलब्ध नहीं करा पा रहे।
रामबहोर केवट
नल कनेक्शनधारियों को दिया जा रहा टैंकर से पानी-
गर्मी के मौसम में टेंडर के आधार पर शहर मेंं पेयजल सप्लाई के लिए टैंकर लगाए गए थे, वो जुलाई माह से बंद कर दिए गए हैं। अब केवल नपा के दो टैंकरों से पेयजल सप्लाई की जा रही है, जिसमें केवल ऐसे नल कनेक्शनधारियों को पानी सप्लाई की जाती है, जो नल कनेक्शन लिए हैं, लेकिन पाइप लाइन टूटने व अन्य कारणों से उनके नलों में पानी नहीं आ रहा है।
शीलध्वज सिंह
प्रभारी पेयजल सप्लाई, नपा सीधी