स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जिला अस्पताल में उपचार के बाद बच्चों के स्वास्थ में हुआ सुधार, दे दी गई छुट्टी

Manoj Kumar Pandey

Publish: Sep 12, 2019 21:33 PM | Updated: Sep 12, 2019 21:33 PM

Sidhi

कलेक्टर ने मध्यान्ह भोजन से स्व-सहायता समूह को हटाने के दिए निर्देश, मामला मध्यान्ह भोजन में छिपकली गिरने से डेढ़ दर्जन बच्चों के स्वास्थ खराब होने का

सीधी। जिले के सिहावल विकासखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत लौआर में संचालित शासकीय प्राथमिक व माध्यमिक शाला बिछरी में मध्यान्ह भोजन पकाने की जिम्मेदारी उठाने वाले शारदा महिला स्व-सहायता समूह को मध्यान्ह भोजन से पृथक किए जाने के निर्देश कलेक्टर रविंद्र कुमार चौधरी ने दिए हैं। यहां बुधवार को बच्चों को पकाए जाने वाले मध्यान्ह भोजन में छिपकली गिर जाने से विषैला मध्यान्ह भोजन करने वाले डेढ़ दर्जन बच्चे बीमार हो गए थे। जिसके बाद बीमार बच्चों को उपचार के लिए जिला अस्पताल मेें भर्ती कराया गया था। जहां उपचार के बाद बच्चों के स्वास्थ में सुधार होने के बाद गुरूवार की सुबह करीब 11 बजे उन्हे छुट्टी दे दी गई, जिसके बाद जिला परियोजना समन्वयक डॉ.केएम द्विवेदी द्वारा बच्चों को उनके गांव तक भिजवाया गया।
उल्लेखनीय है कि शासकीय प्राथमिक व माध्यमिक शाला बिछरी में अध्ययनरत बच्चों के लिए रोजाना की तरह बुधवार को शारदा महिला स्व-सहायता समूह द्वारा उपलब्ध कराए गए खाद्यान्न से विद्यालय के रसोंइयों द्वारा मध्यान्ह भोजन के रूप में खिचड़ी पकाई जा रही थी, इसी दौरान खिचड़ी में छिपकली गिर गई और रसोंइयां देख नहीं पाई। लिहाजा खिचड़ी विषैली हो गई और बच्चों को परोस दी गई, विषैली खिचड़ी खाते ही बच्चों को चक्कर आने लगा और कुछ बच्चे उल्टियां करने लगे। इसकी जानकारी मिलते ही स्कूल प्रबंधन द्वारा बच्चों को भोजन करने से मना करते हुए भोजन फिकवा दिया गया, साथ ही ग्रामीणों को जानकारी दी गई, जानकारी मिलते ही ग्रामीण बच्चों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में लाकर भर्ती कराया गया।
शिक्षकों को नोटिस जारी करने के निर्देश-
उक्त मामले की जांच के दौरान यह बात संज्ञान में आई की विद्यालय में पदस्थ दो महिला शिक्षक कभी स्कूल नहीं आती हैं, जिससे पठन-पाठन प्रभावित होता है। कलेक्टर ने दोनो महिला शिक्षकों को कारण बताओ नोटिस जारी करने के भी निर्देश दिए हैं।
दूसरे समूह को दी जाएगी भोजन की जिम्मेदारी-
प्रथम दृष्ट्या लापरवाही पाए जाने पर मध्यान्ह भोजन में संलग्न महिला स्व-सहायता समूह को पृथक कर दूसरे समूह को भोजन की जिम्मेदारी के निर्देश दिए गए हैं। वहीं यह बात सामने आई है कि विद्यालय में पदस्थ दो महिला शिक्षक नियमित स्कूल नहीं आती जिन्हे कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए गए हैं।
रविंद्र कुमार चौधरी
कलेक्टर सीधी