स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बड़ी खबर : आयुष्मान कार्ड बनाने के नाम पर ग्रामीणों के बैंक खाते से उड़ाई राशि

Balmukund Dwivedi

Publish: Oct 20, 2019 22:35 PM | Updated: Oct 20, 2019 22:35 PM

Sidhi

पीडि़त ग्रामीणों ने बहरी थाना में की रिपोर्ट

सीधी. प्रधानमंत्री की महत्वाकांक्षी आयुष्मान योजना का कार्ड बनाने के नाम पर चार व्यक्तियों द्वारा ग्राम तिलई के रनईया टोला में पहुंचकर 11 ग्रामीणों का अंगूठा फिंगर मशीन में लगवाने के बाद उनके खाते से राशि उड़ा ली। ग्रामीणों को इसका पता 15 दिन बाद चलने पर उनके द्वारा बहरी थाना में लिखित रिपोर्ट की गई है। ग्रामीणों ने बताया कि अभी 4 अक्टूबर की दोपहर करीब ढाई बजे 4 लड़के दो बाईक में लैपटाप एवं फिंगर मशीन लेकर पहुंचे इनके द्वारा ग्राम तिलई के रनईया टोला के चौराहे में बैठकर प्रधानमंत्री मोदी के आयुष्मान कार्ड बनवाने पर पांच लाख तक की दवाई मुफ्त में होने की जानकारी दी गई। जिसके बाद 11 ग्रामीणों द्वारा अपना आधार कार्ड एवं समग्र आईडी दर्ज खाद्यान कूपन उन्हे दिया। इन लड़कों द्वारा बारी-बारी से 11 ग्रामीणों के आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए लैपटाप से जुड़े फिंगर मशीन में अंगूठा लगवाया गया। आयुष्मान कार्ड बनाने की कार्रवाई पूरा कर चारों व्यक्ति जाते समय यह कहा कि 8 दिन बाद सभी का आयुष्मान कार्ड लेकर गांव में बांटने के लिए आएगें। इन सभी ग्रामीणों का बैंक खाता यूनियन बैंक ऑफ इंडिया शाखा मयापुर में संचालित है। धीरे-धीरे मालुम पड़ा कि आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए जिन ग्रामीणों ने अपने अंगूठे फिंगर मशीन में लगाए थे उन सभी खातों से राशि निकल चुकी है।

इन ग्रामीणों के खाते से निकली राशि
आयुष्मान कार्ड बनवाने वाले ग्रामीण बुद्धिसेन केवट के बैंक खाते से 6 हजार 8 सौ रुपए, बैजनाथ केवट के खाते से 25 हजार रुपए, रेशमा केवट के खाते से 1 हजार रुपए, हरिलाल लोनिया के खाते से 7 सौ रूपए, रामकली लोनिया के खाते से 27 हजार 500 रूपए, रामरती केवट के खाते से 25 हजार रुपए, भाईयालाल केवट के खाते से 2 हजार 600 रुपए, श्यामवती के खाते से 5 हजार 800 रुपए, कमला केवट के खाते से 300 रुपए, प्रिया केवट के खाते से 21 हजार 900 रुपए, मुनेश केवट के खाते से 2 हजार रुपए की राशि गायब कर दी गई।

जानकारी लेकर पहुंचे थे धोखाधड़ी करने
ग्रामीणों ने बताया कि चारों व्यक्तियों की उम्र से 20 से 25 वर्ष के अंदर है और उनके द्वारा अपना पता थाना अमिलिया अंतर्गत ग्राम चमरौहां का बताया गया था। यहां आयुष्मान कार्ड बनाने का काम होता है। इनके द्वारा ग्रामीणों को बताया गया था कि आयुष्मान कार्ड बनाने वाला गोड़ाही निवासी लालबहादुर कुशवाहा उनका मित्र है। इन व्यक्तियों की एक बाइक नंबर एमपी-53 एमजी-6507 है जबकि दूसरी गाड़ी पल्सर बिना नंबर की थी।

ग्रामीणों ने की शिकायत
सिद्धार्थ राय, सहायक निरीक्षक, बहरी ने बताया कि ग्रामीणों के द्वारा शिकायत की गई है कि चार लोग आकर आयुष्मान कार्ड बनवाने के नाम पर अंगूठा मशीन में लगवाकर राशि आहरित कर ली गई, बैंकिग मामला होने के कारण बैंक कर्मिंयो के सहयोग से जांच की जा रही है।