स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पांच दिवसीय महाउर ग्रामांचल महोत्सव 9 से

Manoj Kumar Pandey

Publish: Nov 04, 2019 13:06 PM | Updated: Nov 04, 2019 13:06 PM

Sidhi

देशभर के कला शोधार्थी करेंगे शिरकत, भारतीय रंगमंच विभाग पंजाब विश्वविद्यालय चंडीगढ़ के विद्यार्थी भी होंगे शामिल

सीधी। जिले की अग्रणी नाट्य संस्था इंद्रवती नाट्य समिति सीधी द्वारा गत वर्षों की भांति इस वर्ष भी पांच दिवसीय महाउर महोत्सव का आयोजन कर रही है। इस बारयह आयोजन महाउर ग्रामांचल महोत्सव के नाम से आयोजित किया जा रहा है, जो 9 नवंबर से शुरू होकर 13 नवंबर तक चलेगा। इस महोत्व में देशभर के कला शोधार्थी तो शिरकत करेंगे ही, साथ ही भारतीय रंगमंच विभाग पंजाब विश्वविद्यालय चंडीगढ़ के विद्यार्थी भी भाग लेकर सीधी की लोक कलाओं, परंपराओं और लोक संगीत के गुर सीखेंगे। कार्यक्रम शुभारंभ इंद्रवती लोक कला ग्राम हस्तिनापुर में होगा जबकि भव्य समापन 13 सितंबर को शहर के पूजा पार्क एवं मानस भवन में आयोजित किया जाएगा। समापन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि पूर्व नेता प्रतिपक्ष मप्र विधानसभा अजय ङ्क्षसह शामिल होंगे।
पांच दिवसीय आयोजन के प्रथम दिवस 9 नवंबर को इंद्रवती लोक कला ग्राम हस्तिनापुर में 11 बजे से 4 बजे दिन तक लोकरंग की प्रस्तुति, द्वितीय दिवस 10 नवंबर को इंद्रवती लोक कला ग्राम लकोड़ा में 11 से 4 बजे दिन तक लोकरंग की प्रस्तुति, तृतीय दिवस 11 नवंबर को इंद्रवती लोक कला ग्राम बकवा में 11 से 4 बजे दिन तक लोकरंग की प्रस्तुति, चतुर्थ दिवस 12 नवंबर को इंद्रवती लोक कला ग्राम सतनरा में 11 से 4 बजे दिन तक लोकरंग की प्रस्तुति एवं 7.30 बजे सायं से मानस भवन सीधी में लोकगीत गायन, लोक नाट्य व बघेली कविता पाठ और पंचम दिवस 13 नवंबर को पूजा पार्क सीधी में 4 से 7 बजे सायं तक लोकरंग की प्रस्तुति एवं 7 बजे से 8.30 बजे तक मानस भवन सीधी में नाटक बर्बरीक की प्रस्तुति होगी। महोत्सव के समापन समारोह में पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह व अन्य अतिथियों द्वारा सभी कलाकारों को सम्मानित किया जाएगा। इंद्रवती नाट्य समिति के युवा रंगकर्मी निदेशक नीरज कुंदेर, रोशनी प्रसाद मिश्र व नरेंद्र बहादुर सिंह ने बताया कि महोत्सव की तैयारी जोरों पर चल रही है, समिति के कलाकार और लोक कला ग्राम के मुखिया कार्यक्रम की तैयारी में अपने सहयोगियों के साथ जुटे हुए हैं। उक्त कार्यक्रम की तैयारी गिरिजा शंकर के मार्गदर्शन में एवं इंजी.आरबी सिंह, डॉ.अनूप मिश्र के संरक्षण में हो रही र्है। कार्यक्रम में विशेष सहयोग अखिलेश पांडेय व डॉ.विक्रम सहित सभी लोक कलाकारों का है। आयोजन समिति ने सीधी के विभिन्न ग्रामवासियों एवं नगरवासियों से कार्यक्रम में ज्यादा से ज्यादा संख्या में उपस्थिति दर्ज कराने की अपील की है।

[MORE_ADVERTISE1]