स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सांसद विधायक से मायूस ग्रामीण उतरे आंदोलन की राह पर

Manoj Kumar Pandey

Publish: Oct 13, 2019 21:46 PM | Updated: Oct 13, 2019 21:46 PM

Sidhi

गिजवार अंचल के विभिन्न सड़कों के मरम्मत व सुधार के लिए दिया था ज्ञापन, नहीं हुआ सुधार, 14 अक्टूबर को होगा विशाल धरना प्रदर्शन

सीधी/मझौली। जनपद क्षेत्र में मझौली अंतर्गत गिजवार अंचल के विभिन्न मार्गों के लिए जाने वाली सड़कों के खस्ताहाल से परेशान ग्रामीणों ने गत 25 सितंबर 2019 को युवा एकता मंच गिजवार के माध्यम से उपखंड अधिकारी को ज्ञापन सौंपा गया था।
ज्ञापन पत्र में कहा गया था कि क्षेत्रीय विधायक कुंवर सिंह टेकाम व संसदीय क्षेत्र की सांसद रीती पाठक को इन सड़कों के खस्ताहाल को लेकर कई बार मौखिक और लिखित आवेदन देने पर महज आश्वासन की घुट्टी पिलाई जाती रही है। जिससे लोगों में सांसद व विधायक एवं जिला प्रशासन के प्रति आक्रोश एवं असंतोष की स्थिति निर्मित हुई है। जिसके लोगों ने आंदोलन का रास्ता तय किया है और 14 अक्टूबर को धरना प्रदर्शन करने का निर्णय लिया गया है।
लोगों द्वारा बताया गया कि इस अंचल के सड़कों को लेकर 10 वर्षों में लगभग छ: बार डीपीआर तैयार कर भेजा जा चुका है। लेकिन जनप्रतिनिधियों के उपेक्षा पूर्ण रवैया के कारण सड़कंे मूर्त रूप नहीं ले सकीं, और डीपीआर के अनुसार राशि स्वीकृत नहीं की जा सकी। लिहाजा आज दिनांक तक सड़क मरम्मत एवं सुधार कार्य प्रारंभ नहीं किया जा सका है। उक्त मार्गों से विभिन्न विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को, आने-जाने वाले वाहनों को तथा आम जनों के निस्तार में भारी दिक्कत हो रही है। ऐसी दिक्कतों के समाधान हेतु युवा एकता मंच गिजवार द्वारा विशाल धरना प्रदर्शन किए जाने का ज्ञापन पत्र सौंपा जा चुका है। जिसमें कहा गया है, उक्त धरना प्रदर्शन 14 अक्टूबर को सुबह 10.30 बजे से 3 बजे तक चलेगा। धरना-प्रदर्शन तहसील कार्यालय मझौली के सामने स्थित मंदिर के सामने रिक्त पड़ी भूमि पर किए जाने का निर्णय लिया गया है। प्रदर्शन कर संवैधानिक अधिकारों के तहत मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश शासन भोपाल को संबोधित ज्ञापन पत्र भी उपखंड अधिकारी के माध्यम से सौंपा जाएगा।
........इस अंचल की सड़क खस्ताहाल होने से पूरे अंचल के लोगों को आवागमन की सुचारु सुविधाएं नहीं मिल रही है। बावजूद इसके जनप्रतिनिधि सांसद व विधायक क्षेत्र के लोगों से सड़क मंजूर होने की झूठी जानकारी गत 15 वर्षों से देते आ रहे हैं। किंतु सड़क आज तक नहीं बनवाई जा सकी। जिससे लोगों में भारी आक्रोश है।
कृष्णपाल सिंह, अध्यक्ष युवा एकता मंच गिजवार