स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बंद होने की कगार पर दूरसंचार विभाग

Manoj Kumar Pandey

Publish: Aug 17, 2019 21:36 PM | Updated: Aug 17, 2019 21:36 PM

Sidhi

बड़ी संख्या में पद रिक्त पड़े होने से चरमराई व्यवस्था, लैंड लाइन व ब्राड बैंड सेवाएं हो रही प्रभावित, लाइन सुधार के लिए नहीं हैं कर्मचारी, कई शासकीय विभागों में सेवाएं प्रभावित होने से काम काज ठप्प, दूसरी कंपनियों की लैंडलाइन सेवा न होने से परेशान हो रहे उपभोक्ता

सीधी। भारत संचार निगम लिमिटेड की व्यवस्थाएं इन दिनों बेपटरी चल रही हैं। यह व्यवस्था कर्मचारियों की कमी के कारण हो रही है। विभागीय सूत्रों की बात माने तो यहां जिला अधिकारी सहित करीब अस्सी फीसदी कर्मचारियों के पद लंबे समय से रिक्त पड़े हुए हैं। जो कर्मचारी कार्यरत भी हंैं व मनमानी पूर्वक कार्य कर रहे हैं, लिहाजा व्यवस्थाएं पूरी तरह से चौपट हो चुकी हैं। कर्मचारियों की लापरवाही के कारण बीएसएनएल के उपभोक्ता भी परेशान हैं, क्योंकि लाइन में गड़बड़ी होने पर उनका समय पर सुधार भी नहीं हो पा रहा है। शहर में बीएसएनएल सेवा सुधार की जिम्मेदारी मात्र एक मैकेनिक के भरोसे है। जबकि रोजाना दो दर्जन से ज्यादा कनेक्सन खराब होने की शिकायत दर्ज कराई जाती है। किंतु सुधार का आलम यह है कि शिकायत दर्ज कराने के महीनों बाद मैकेनिक सुधार के लिए पहुंच पाता है। जिससे लोगों का विश्वास बीएसएनएल सेवा से उठता जा रहा है। वहीं यदि विभाग की यही स्थिति रही तो बंद होने की कगार पहुंच जाएगा।
विभागीय सूत्रों की माने तो शहर में कुल 1 हजार 800 से अधिक बीएसएनएल उपभोक्ता हैं। जिसमें से 1200 लैंडलाईन कनेक्सन व 600 ब्राडबैंड कनेक्सन दिया गया है। जहां आए दिन सेवा बाधित होने की शिकायतें आ रही हंै। नगरीय क्षेत्र में चारो तरफ निर्माण कार्य चल रहे हैं। कार्य के दौरान जेसीबी मशीन से नाली या सड़क निर्माण के लिए खनन के दौरान केबिल कट जाती है। इसके अलावा अन्य फाल्ट से सुविधा बाधित हो रही है। किंतु सिर्फ एक मैकेनिक होने के कारण समय पर सुधार नहीं हो पा रही है।
यूबीआई अमिलिया की सेवाएं एक माह से प्रभावित-
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया शाखा अमिलिया की ब्राड बैंड सेवा करीब एक माह से प्रभावित है, सर्वर खराब होने के कारण बैंक का काम काज पूरी तरह से प्रभावित हो रहा है, बैंक प्रबंधन के अनुसार सर्वर खराब होने की सूचना दूर संचार विभाग को दी जा चुकी है, लेकिन सुधार कार्य नहीं कराया जा रहा है। प्रबंधक ने बताया कि सर्वर खराब होने के कारण उपभोक्ता रोज परेशान होते हैं, बैंकिंग सेवाएं पूरी तरह से प्रभावित हो रही हैं, सर्वर खराब होने की शिकायत लगातार किए जाने के बाद सुधार कार्य नहीं कराया जा रहा है।
छ:माह में एक बार आए डिस्ट्रिक मैनेजर-
सीधी जिले की दूर संचार कंपनी रीवा से चल रही है। बताया गया कि कंपनी के डिस्ट्रिक मैनेजर के पास तीन जिलों की कमान है, दूरसंचार कंपनी के रीवा डीईटी एसके ताम्रकार के पास रीवा, सीधी व सिंगरौली जिले का प्रभार है, विभागीय सूत्रों की बात माने तो करीब छ: माह पूर्व प्रभार पाने के बाद एसके ताम्रकार महज एक बार सीधी कार्यालय आ पाए हैं। कार्यालय का मुखिया न होने के कारण यहां की व्यवस्थाएं रामभरोसे ही चल रही हैं।

कोई सीधी जाना नहीं चाह रहा-
सीधी कार्यालय में कर्मचारियों की काफी कमी होने के कारण व्यवस्थाएं प्रभावित है, कोई कर्मचारी सीधी जाना ही नहीं चाह रहा। मेरे पास ही तीन जिलों का प्रभार है, कार्य के दबाव की वजह से मैं भी कम ही जा पा रहा हूं।
एसके ताम्रकार
प्रभारी डीईटी, दूरसंचार कंपनी लिमिटेड सीधी