स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

प्रवेश के अंतिम अवसर का लाभ उठाने कॉलेज में उमड़ी छात्र-छात्राओं की भीड़

Manoj Kumar Pandey

Publish: Sep 04, 2019 20:12 PM | Updated: Sep 04, 2019 20:12 PM

Sidhi

सीट बढऩे का प्रवेश से वंचित सैकड़ों छात्रों को मिल सकता है लाभ, कल से दिया जाएगा पहले आओ पहले पाओ के तहत प्रवेश का लाभ, मामला जिले के अग्रणी महाविद्यालय संजय गांधी का

सीधी। जिले के अग्रणी महाविद्यालय शासकीय संजय गांधी स्वशासी स्नातकोत्तर महाविद्यालय सीधी में यूजी एवं पीजी कक्षाओं में प्रवेश के लिए चल रही मारामारी के बीच राहत भरी खबर है। आरक्षण रोस्टर के तहत मैरिट वेश में यूजी एवं पीजी में सीटे भर जाने के कारण करीब 60 प्रतिशत अंक अंर्जित करने के बाद भी सामान्य वर्ग के सैकड़ो छात्र-छात्राएं प्रवेश से वंचित हो रहे थे। छात्र संगठनों की मांग पर उच्च शिक्षा विभाग के द्वारा ऐसे छात्र-छात्राओं के लिए प्रदेश सभी कॉलेजों में प्रवेश के लिए यूजी एवं पीजी कक्षाओं में प्रवेश सीटे बढ़ाकर प्रवेश के लिए एक और अवसर दिया गया है। उच्च शिक्षा विभाग के निर्देश पर प्रवेश के लिए दिए गए इस अंतिम अवसर में प्रवेश से वंचित रह गए छात्रों के लिए पहले आओ पहले पाओ के आधार पर प्रवेश दिया जाएगा।
दो दिन से कॉलेज में छात्रों का डेरा-
प्रवेश से वंचित छात्रों के लिए दिए गए अंतिम अवसर की जानकारी मिलने के बाद से ही शहर के एसजीएस कॉलेज में संबंधित छात्रों द्वारा डेरा जमा लिया गया है। यह अंतिम अवसर के लिए 3 से 12 सितंबर तक की तिथि निर्धारित की गई है। जिससे एसजीएस कॉलेज में 3 सितंबर को ही प्रवेश से वंचित छात्रों ने डेरा जमा लिया लिया था। लेकिन उच्च शिक्षा विभाग के निर्देशानुसार तीन से पांच सितंबर तक प्रवेश के लिए निर्धारित रिक्त सीटों में वरीयता सूची के आधार पर प्रवेश दिए जाने की प्रक्रि या जारी है, जो आज पांच सितंबर तक चलेगी। इसके बाद बढ़ाई गई सीटों में पहले आओ पहले पाओ के आधार पर प्रवेश प्रक्रिया शुरू की जाएगी।
बीस से पचीस फीसदी बढ़ाई गई सीटें-
कॉलेज प्रबंधन के अनुसार उच्च शिक्षा विभाग द्वारा निर्धारित किए गए मापदंड के आधार पर कॉलेज प्रवेश समिति की बैठक बुधवार की दोपहर आयोजित की गई, जिसमें सर्वसम्मति से स्नातक स्तर पर 25 फीसदी एवं स्नातकोत्तर स्तर पर 20 फीसदी सीटें बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। इन बढ़ी हुई सीटों पर 6 सितंबर से पहले आओ पहले पाओ की प्राथमिकता के आधार पर प्रवेश से वंचित छात्र-छात्राओं को प्रवेश दिया जाएगा।
संगीनों के साए मेें चलेगी प्रवेश प्रक्रिया-
जिस तरह एसजीएस कॉलेज में प्रवेश के लिए मारामारी चल रही है, और कॉलेज में छात्र-छात्राओं की भीड़ उमड़ रही है, उससे 6 सितंबर को विवाद की स्थिति निर्मित होने की संभावनाओं के मद्देनजर कॉलेज प्रबंधन द्वारा पुलिस बल की उपलब्धता की भी मांग की गई है, ताकि किसी प्रकार की विवाद की स्थति उत्पन्न होने पर पुलिस मोर्चा संभाल सके। इस तरह 6 सितंबर को प्रवेश प्रक्रिया संगीनों के साए में चलेगी।
बांटा जाएगा टोकन-
कॉलेज में प्रवेश समिति की बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार यूजी में 25 व पीजी में 20 फीसदी सीटे बढ़ा दी गई हैं। इन बढ़ी हुई सीटों में 6 सितंबर से पहले आओ पहले पाओ के आधार पर प्रवेश दिया जाएगा। किसी प्रकार की विवाद की स्थिति निर्मित न हो इसलिए टोकन सिस्टम लागू किए जाने के साथ ही पुलिस बल की भी मांग की गई है। वैसे उम्मीद है कि सीट बढऩे के बाद अब ज्यादातर छात्र-छात्राओं को प्रवेश मिल जाएगा।
डॉ.एआर सिंह
प्राचार्य, एसीएजस कॉलेज सीधी