स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

आयुष्मान योजना मे पंजियन मे बरती जा रही शिथिलता

Om Prakash Pathak

Publish: Nov 10, 2019 13:28 PM | Updated: Nov 10, 2019 13:28 PM

Sidhi

आयुष्मान योजना मे पंजियन मे बरती जा रही शिथिलता, कितने सदस्यों का पंजियन करना हैं इसकी नहीं है जानकारी, एक लाख ४३ हजार परिवार के सभी सदस्यों का करना है पंजियन

सीधी। आयुष्मान योजना को लागू हुए एक वर्ष से ज्यादा का समय बीत चुका है, उसके बाद भी विभागीय अमले के द्वारा पंजियन मे रूचि नहीं दिखाई जा रही है। आलम यह है कि जिले के कितने लोगों का पंजियन करना है, यह भी जानकारी जिम्मेदारों को नहीं है। जिले में आयुष्मान निरामय स्वास्थ्य योजना जिम्मेदारों की अनदेखी की भेंट चढ़ गई है। अधिकारियों की लापरवाही इस कदर है कि लक्ष्य के ५० फीसदी परिवारों का पंजीयन नहीं कर सके। उधर, इलाज का क्लेम पास होने के बाजवूद महीनों से अधिक का समय बीतने के बाद भी भुगतान नहीं हो सका है।
१.४३ लाख परिवार चिन्हिंत-
जिले में आयुष्मान निरायम स्वास्थ्य योजना के तहत जिले में चिन्हिृत एक लाख ४३ हजार परिवारों को इलाज का लाभ देने के लिए पंजीयन कर कार्ड बनाया जाना है। एक परिवार मे औसतन पांच सदस्य होना माना जा सकता है। ऐसी स्थिति मेे पांच लाख से ज्यादा लोगों का पंजीयन करना है किंतु अभी तक महज २ लाख २३ हजार ४६६ सदस्यों का ही पंजियन हो पाया है। पंजीयन का कार्य कर रहे प्रभारी ने बताया कि पंजीयन की दो प्रक्रिया है। सरकारी अस्पताल में इलाज के दौरान भी पंजीयन कर कार्ड बनाया जा रहा है। इसके अलावा जिले में कामन सर्विस सेंटर खोले गए हैं। कामन सेंटरों पर पंजीयन के लिए 30 रुपए की रसीद कटवानी होगी। कामन सेंटरों को ई-गर्वेंस की ओर से मॉनीटरिंग की जा रही है।
८० लाख से ज्यादा राशि स्वीकृत-
इलाज में खर्च के लिए ८० लाख रुपए से अधिक का क्लेम स्वीकृत हुआ है। अभी करीब सौ मरीजों के इलाज का भुगतान विभागीय अधिकारियों की अनदेखी के चलते लटका हुआ है। विभागीय अधिकारियों का दावा है कि स्वीकृत क्लेम में से २३ लाख रुपए का भुगतान हो सका है। अभी ५७ लाख रुपए से अधिक क्लेम का भुगतान नहीं हो सका है।
शिविर लगाकर नहीं कराया जा रहा पंजीयन-
जिले मे जिला चिकित्सालय मे पंजीयन के लिए कांउटर खोले गए हैं, जिसकी जानकारी ग्रामीणों को नहीं है, ऐसी स्थित मे जरूरत है तो गांव-गांव शिविर लगाकर पंजीयन कराने की किंतु पंजीयन के लिए शिविरों का आयोजन नहीं किया जा रहा है। जिससे गांव के लोग इस योजना से अंजान बने हुए हैं।
फैक्ट फाइल
कुल पंजीयन २,२३,४६६
चिन्हिंत परिवार-१,४३,०००
स्वीकृत क्लेम राशि- ८० लाख
भुगतान की स्थिति-२३ लाख
कराया जा रहा है पंजीयन-
एक लाख ४३ हजार परिवारों का चयन किया गया है, किंतु इन परिवारों मे संख्या कितनी है यह मैं नहीं बता पाउंगा, क्योंकि किसी परिवार मे पांच सदस्य हैंं तो किसी मे दस भी हैं। २ लाख २३ हजार ४६६ सदस्यों का पंजीयन कर लिया गया है, शेष का पंजीयन कार्य प्रारंभ है।
भुवन
पंजीयन प्रभारी, आयुष्मान निरामय योजना

[MORE_ADVERTISE1]