स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बुद्धा थीम पार्क निर्माण में मिली अनियमितता, जेई के वेतन से होगी रिकवरी

Neeraj Patel

Publish: Jul 24, 2019 19:24 PM | Updated: Jul 24, 2019 19:24 PM

Shravasti

बौद्ध तपोस्थली श्रावस्ती को विश्व मानचित्र पर स्थापित करने के लिए इसे और सुविधा सम्पन्न बनाया जा रहा है।

श्रावस्ती. बौद्ध तपोस्थली श्रावस्ती को विश्व मानचित्र पर स्थापित करने के लिए इसे और सुविधा सम्पन्न बनाया जा रहा है। यहां बन रहे बुद्धा थीम पार्क, टूरिष्ट फैसिलिटी सेंटर व वर्ल्ड पीस वेल के सौन्दरीकरण के साथ ही सोलर लाइटिंग आदि की व्यवस्था भी कराई जा रही है। जिसका डीएम ने औचक निरीक्षण किया।

इस दौरान उन्हें निर्माण कार्य मे भारी अनियमितता देखने को मिली। इस पर नाराजगी जताते हुए डीएम ने गुणवत्ता विहीन निर्माण पर खर्च धनराशि की वसूली सम्बंधित अवर अभियंताओं के वेतन से करने तथा सीडीओ को गुणवत्ता पूर्ण ढंग से समय पर निर्माण कार्य पूरा कराने का निर्देश दिया।

ये भी पढ़ें - लखनऊ को टीबी मुक्त शहर बनाने की कवायद शुरू, एनएचएम ने कसी कमर

बुद्ध की तपोस्थली का औचक निरीक्षण

बौद्ध तप्पोस्थली श्रावस्ती का जिलाधिकारी ओपी आर्य ने औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि बुद्ध की तपोस्थली होने के कारण यह जिला दुनिया के मानचित्र में दर्ज है। यहां पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं। इस दौरान उन्होंने तपोस्थली में निर्माणाधीन विकास कार्यों में औचक निरीक्षण भी किया। इस दौरान उन्होंने देखा कि यहां बन रहे बुद्धा थीम पार्क में इंटरलॉकिंग सहित पार्किंग का सलोप ठीक नहीं है। इतना ही नही यहां नक्से के विपरीत निर्माण कार्य कराया जा रहा है। निर्माण कार्य मे मानक व गुणवत्ता का जरा भी ख्याल नहीं रखा गया है। निर्माण कार्य कि मानिटरिंग के लिए तैनात अवर अभियंता के द्वारा अपने कार्य मे रुचि न लिए जाने के कारण यहां अनियमितता बरती गई है। इस पर नाराजगी जताते हुए डीएम ने मॉनिटरिंग के लिए तैनात अवर अभियंता राजेन्द्र प्रसाद व सरोज सिंह को कड़ी फटकार लगाते हुए उन्हें अपने वेतन से इंटरलाकिंग व पार्किंग स्थल का कार्य मानक के अनुरूप कराने का निर्देश दिया।

ये भी पढ़ें - किसान दिवस कार्यक्रम में किसान हुआ बेहोश, अस्पताल ले जाने के लिए नहीं मिली एंबुलेंस

ये लोग रहे मौजूद

इसके साथ ही सीडीओ से कार्यदाई संस्था के विरुद्ध कार्रवाई करने, तथा निर्धारित समय सीमा पर काम पूरा कराने को कहा। निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी अवनीश राय, अपर जिलाधिकारी योगानन्द पाण्डेय, राजकीय निर्माण निगम के परियोजना प्रबन्धक हेमन्त श्रीवास्तव, सेवा निवृत्त पर्यटक अधिकारी आर0टी0 यादव, सहायक अभियन्ता राजकीय निर्माण निगम एवं सम्बनिधत अवर अभियन्तागण उपस्थित रहे।