स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रपटा पार करते समय सिंध नदी में बह गए ट्रैक्टर ट्रॉली

Rakesh shukla

Publish: Sep 27, 2019 23:05 PM | Updated: Sep 27, 2019 23:05 PM

Shivpuri

ट्रैक्टर सवार एक युवक तैरकर नदी से बाहर निकला, दूसरे का पता नहीं

 

शिवपुरी/कोलारस. ओवरफ्लो होकर बह रहे नाले के ऊपर रपटे से गुजर रहा ट्रैक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित होकर नाले में बह गया। इस दौरान ट्रैक्टर पर सवार दो युवकों में से एक ने तो तैरकर अपनी जान बचा ली, जबकि दूसरे युवक को कोई पता नहीं चल सका है। घटना की सूचना के बाद होमगार्ड का का रेस्क्यूदल मौके पर पहुंचा और पानी में बहे युवक की तलाश शुरू कर दी है। हालांकि देर शाम तक युवक का कोई पता नहीं चल सका है। घटना शिवपुरी जिले के जिले के कोलारस थाना अंतर्गत ग्राम भड़ौता में े सिंध नदी के ओवरफ्लो रपटा पर बुधवार की दोपहर घटी। जानकारी के अनुसार विमल लोधी एवं खुशिया लोधी निवासी भड़ौता बुधवार की दोपहर करीब १ बजे ग्राम भड़ौता से ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर रन्नौद की ओर जा रहे थे। तभी भड़ौता के पास सिंध नदी के रपटे पर घुटनों तक पानी के बीच से ट्रैक्टर निकालने का प्रयास चालक ने किया। इसी बीच पानी के तेज बहाव में ट्रैक्टर-ट्रॉली अचानक से असंतुलित होकर रपटे से नीचे पानी में गिर गए। ट्रैक्टर पर सवार विमल लोधी तैर कर किनारे लग गया लेकिन ट्रैक्टर चला रहे खुशिया का कोई सुराग नहीं लग सका। मामले की सूचना केबाद मौके पर पुलिस व रेस्क्यू दल के लोग पहुंच चुके है और पानी में गिरे युवक की तलाश की जा रही है।

आकशीय गाज गिरने से ५ घायल
शिवपुरी जिले के गोपालपुर थाना क्षेत्र के ग्राम बरखेड़ा में आकाशीय गाज गिरने से तीन लोग घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए सतनवाड़ा स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है।
जानकारी के अनुसार ग्राम बरखेड़ा निवासी रीना आदिवासी, सौरभ आदिवासी, ऊदल आदिवासी, रीना आदिवासी, रूस्तम आदिवासी शुक्रवार की दोपहर ढाई बजे अपने खेत पर मंूगफली खोद रहे थे। इसी दौरान आसमान में तेज गडग़ड़ाहट के साथ आकाशीय गाज उन पर आकर गिरी। इस आकाशीय गाज की चपेट में खेत में काम कर रहे पांचों लोग आकर बुरी तरह झुलस गए। गांव के लोगों ने तत्काल मामले की सूचना १०८ एम्बूलेंस को दी, जिस पर दो एम्बूलेंस गांव पहुंची और ईएमटी सतीश अर्गल, अजीत सिंह कुशवाह ने घायलों को रास्ते में ही प्राथमिक उपचार प्रदान कर सभी घायलों को इलाज के लिए सतनवाड़ा स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। सभी घायलों की हालत फिलहाल स्थिर बनी हुई है।