स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान गिरफ्तार

Muneshwar Kumar

Publish: Aug 27, 2019 17:54 PM | Updated: Aug 27, 2019 18:01 PM

Shivpuri


शिवपुरी में मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान को पुलिस ने किया गिरफ्तार

शिवपुरी/ पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान को मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में गिरफ्तार किया गया है। शिवराज सिंह चौहान को पुलिस गिरफ्तार कर थाने ले गई है। शिवराज सिंह चौहान शिवपुरी में आयोजित किसान रैली में सम्मिलित होने गए थे। शिवराज सिंह चौहान को पुलिस आंदोलन स्थल से गिरफ्तार कर ले गई है। वहीं, थाना परिसर के बाहर बीजेपी कार्यकर्ताओं की भीड़ जमा हो गई है।


दरअसल, शिवराज सिंह चौहान शिवपुरी के पिछोर गए थे। जहां वह किसानों को संबोधित करने वाले थे। इस रैली में शामिल होने के लिए हजारों की संख्या में किसान जमा हुए थे। शिवराज सिंह चौहान के साथ इस रैली में शामिल होने के लिए बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा भी पहुंचे थे। शिवराज सिंह चौहान जिन किसानों के लिए आंदोलन करने गए थे, उनका ओलावृष्टि से फसल तबाह हो गया है।

 

वहीं, शिवपुरी के पिछोर में आज पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित अन्य भाजपा नेताओं ने गिरफ्तारी दी। जिसमे प्रभात झा, गुना-शिवपुरी सांसद केपी यादव, कोलारस विधायक वीरेंद्र रघुवंशी व प्रीतम लोधी ने गिरफ्तारी दी। गिरफ्तारी भी नाटकीय ढंग से हुई, मंच पर एडीशनल एसपी गजेंद्र कंवर ने माइक पर नेताओं के नाम लेकर कहा कि मैं इन्हें गिरफ्तार करता हूं, इसके बाद एसडीएम यूएस सिकरवार ने माइक पर कहा कि मैं इन्हें रिहा करता हूं।

 

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि यहां पर गुंडाराज चल रहा है, भाजपा कार्यकर्ताओं पर झूठे केस लगाए जा रहे हैं, अतिक्रमण के नाम मकान तोड़े जा रहे हैं। मैं सरकार को चेतावनी देना चाहता हूं कि यदि ऐसे झूठे केस बनें तो भाजपा चुप नहीं बैठेगी। हम लड़ाई झूठे केसों के अलावा कर्जमाफी, बिजली बिल हाफ, भावान्तर, सम्बल योजना बन्द कर दी, हम बच्चों को स्मार्ट फोन देते थे वो भी नहीं दिए जा रहे। शिवराज ने कहा कि जब कांग्रेस के विधायक ही कह रहे हैं कि भ्र्ष्टाचार हो रहा है तो हम क्या कहें।


वहीं, पिछले दिनों शिवराज सिंह ने पीड़ित किसान को मुआवजा दिलाने के लिए सिहोर में आधी रात को कलेक्टर के पास पहुंच गए थे। वहां जाकर उन्होंने कलेक्टर को बर्बाद फसल भी दिखाया था। गौरतलब है कि पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान पिछले कुछ महीनों से प्रदेश की राजनीति में आम मुद्दों को लेकर काफी सक्रिय हो गए हैं। किसानों से पहले उन्होंने आदिवासियों की मांग को लेकर भोपाल में प्रदर्शन किया था। उसके बाद सीएम कमलनाथ से मुलाकात की थी। बाद में सरकार ने आदिवासियों की मांगें मान ली थी।