स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गरीबों को ऋण दिलाने के नाम पर की लाखों की ठगी और दफ्तर बंद कर भाग गया

Rakesh shukla

Publish: Oct 06, 2019 16:35 PM | Updated: Oct 06, 2019 16:35 PM

Shivpuri

पीडि़त महिलाओं ने कोतवाली में आवेदन देकर लगाई आरोपी को पकडऩे की गुहार

 

शिवपुरी. शहर के नजदीक ग्राम नौहरीकलां से आईं लगभग एक दर्जन महिला-पुरुषों ने शनिवार को शिवपुरी कोतवाली में आवेदन देकर अपने साथ हुई ठगी का जिक्र किया। महिलाओं का कहना था कि समूह को लोन दिलवाने के नाम पर उनसे 12 हजार से लेकर 45 हजार रुपए तक जमा करवाने के बाद आरोपी अपना बड़ौदी स्थित ऑफिस बंद सकरके भाग गया। अब उसके मोबाइल नंबर भी नहीं लग रहे। ठगी का शिकार हुई महिलाओं की मांग है कि ठगी करने वाले के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया जाए।


नौहरीकलां व गौशाला में रहने वाली महिलाओं ने पुलिस को दिए आवेदन बताया कि हम गरीबों के साथ अशोक यादव नामक व्यक्ति ने लोन दिलवाए जाने के बहाने राशि जमा करवा ली और फिर वो ऑफिस बंद करके भाग गया। उन्होंने बतायाकि अशोक ने कोचर फायनेंशियल सर्विसेज प्रा.लि. शिवपुरी कार्यालय के नाम से वार्ड 16 बड़ौदी शिवपुरी में एक किराए के कमरे में ऑफिस खोला था। हम लोगों को पर्सनल लोन, मार्कशीट लोन, प्रॉपर्टी लोन, बिजनेस लोन, कृषि लोन, प्रोजेक्ट लोन व एफडी एवं समूह के माध्यम से ऋण दिलवाने का भरोसा दिया और एक सदस्य से 2 हजार से 5 हजार रुपए जमा कराए तथा एफडी के नाम पर 20 से 50 हजार रुपए तक जमा कराए। इसके बाद अशोक ने यह कहकर कि तुम्हारा ऋण जल्दी से जल्दी स्वीकृत होने वाला है और तुम अपना धंधा पानी चालू कर सकते हो, इसलिए पुन:सभी से दो से तीन हजार रुपए जमा कराए। अशोक ने अपने एक अन्य साथी को वकील बताया तथा वह चार पहिया गाड़ी से आता था और उसी वाहन में बैठकर वसूली करता था। वकील का नाम व पता हम लोग नहीं जानते। पीडि़त महिलाओं ने इन दोनों के मोबाइल नंबर पताते हुए इन्हें साइबर सेल से ट्रेस करवाए जाने की मांग की।


20 हजार जमाकर 10 हजार की दी कच्ची रसीद
शिकायत करने आईं महिलाएं अपने साथ वो रसीद भी लाईं, जिसमें अशोक यादव ने अपने हस्ताक्षर से उन्हें काटकर दी। कोचर फायनेंशियल की सील लगा हुआ सादा रसीद कट्टे पर लिखकर वो रसीदें थमा दी गईं। महिलाओं का कहना है कि 20 हजार रुपए लेकर 10 हजार रुपए की रसीद दी गई।

इन लोगों से की ठगी
हरिओम पुत्र गोपाल शाक्य निवासी गौशाला , अनीता पत्नी हरीशंकर खटीक नौहरीकलां, मीरा बंजारा पत्नी सप्पू नौहरीकलां, जगदीश पुत्र देवसिंह जारा नौहरीकलां, कल्ला पुत्र देवसिंह बंजारा नौहरीकलां, बादाम पुत्र बंटी बंजारा नौहरीकलां से 15-15 हजार रुपए, दीपक पुत्र रामजीलाल खटीक से 13200 रुपए, बलराम पुत्र मोती बंजारा से 12 हजार, हरीराम बंजारा नौहरीकलां, पप्पी पत्नी सावदी बंजारा नि. सिंहनिवास, रणवीर पुत्र नेहनू बंजारा सिंहनिवास, रंजीत पुत्र नारू बंजारा सिंहनिवास, सोभरन पुत्र कान्हा बंजारा सिंहनिवास, विजय पुत्र सेठा बंजारा सिंह निवास से 15-15 हजार रुपए, सत्यप्रकाश पुत्र सीताराम ग्राम पिछोर से 45 हजार रुपए, तिलक पुत्रविष्णु प्रसाद नामदेव नि. कमलागंज से 4100 रुपए, प्रिंस पुत्र अर्जुन खटीक कमलागंज से 4100 रुपए व किरण पत्नी विनोद खटीक निवासी मोहना ग्वालियर से 7500 रुपए की राशि ले गया।