स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नागरिकता संशोधन बिल पर जारी बवाल के बीच किसानों ने भी किया सड़क जाम

Iftekhar Ahmed

Publish: Dec 11, 2019 14:40 PM | Updated: Dec 11, 2019 14:40 PM

Shamli

  • किसानों ने एक साथ कई मार्गों को किया जाम
  • किसानों ने 3 वर्ष से मूल्य नही बढ़ाने का लगाया आरोप

 

शामली. गन्ना मूल्य बढ़ाये जाने की मांग को लेकर बुधवार को लेकर भारतीय किसान यूनियन सड़कों पर उतर आया है। भारतीय किसान यूनियन के सैकड़ों कार्यकर्ता रोड जाम करते हुए सड़कों पर बैठ गए। वहीं, भाकियू ने शामली में गुरुद्वारा रोड, मेरठ-करनाल हाई-वे, पानीपत-खटीमा मार्ग और दिल्ली-देहरादून मार्ग जाम कर दिया।

यह भी पढ़ें: देवबंदी मुस्लिम धर्मगुरु ने नगरिकता संशोधन बिल पास होने पर की कड़ी निंदा

दरअसल, प्रदेश भर में बुधवार को गन्ना किसानों ने उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। वहीं, गुस्साए किसानों ने रोड जाम करते हुए यूपी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की है। भारतीय किसान यूनियन के सैकड़ों कार्यकर्ता यूपी सरकार से 450 रुपये प्रति कुंतल की मांग पर अड़े हुए हैं, क्योकि वर्ष 2016 से लेकर अब तक किसानों का ना तो बकाया भुगतान हो गए। वहीं, भाकियू के द्वारा जनपद में लगाये गए जाम से आम जनमानस को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें: यूपी पुलिस ने एनकाउंटर में फिर एक बदमाश को किया पस्त

गन्ना मूल्य को बढ़ाने की मांग पर भाकियू के प्रदेश प्रवक्ता कुलदीप पवार का कहना है कि यह सरकार गूंगी भेरी हो गयी है। किसानों का पिछले 3 वर्ष से गन्ना मूल्य नही बढ़ाया गया है। वही गन्ना मंत्री हमारे जनपद के होने के बावजूद भी नंगा मंत्री हो गए है। यह किसानों की नहीं सुनते है और किसानों को भूल जाते है। जब सरकार इनको नंगा करके भगा देती है तब इनको किसानों की याद आती है।

[MORE_ADVERTISE1]