स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

VIDEO: अजय पाठक और परिवार की हत्या के आरोपी की रिमांड पूरी, पुलिस ने कड़ी सुरक्षा में कोर्ट में किया पेश

Rahul Chauhan

Publish: Jan 07, 2020 19:29 PM | Updated: Jan 07, 2020 19:31 PM

Shamli

Highlights:

-1 जनवरी को हिमांशु की गिरफ्तारी के समय हत्या में प्रयुक्त एक तलवार, चाकू बरामद किया गया था

-जिसके बाद पुलिस ने हत्यारोपी को 4 दिन पहले शनिवार को पुलिस कस्टडी रिमांड पर लेकर पूछताछ की थी

-आरोपी से पूछताछ में पता चला कि हत्या करने के बाद अलमारी खोलकर उसमें रखी नकदी और गहने लूटे थे

शामली। पंजाबी कॉलोनी में भजन गायक अजय पाठक की परिवार सहित हत्या करने के आरोपी की पुलिस रिमांड अवधी पूरी हो गई। मंगलवार को हत्यारोपी हिमांशु सैनी की रिमांड अवधि पूरी होने के बाद थाना आदर्श मंडी एसएचओ कर्मवीर सिंह ने कड़ी सुरक्षा के बीच कैराना स्थित मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की कोर्ट में पेश किया। जिसके बाद आरोपी को मुजफ्फरनगर कारागार भेजा गया है।

यह भी पढ़ें : परीक्षा केंद्रों पर मोबाइल और इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस पर प्रतिबंध, नकल रोकने के कड़े इंतजाम

बता दें कि शामली की पंजाबी कॉलोनी में 31 दिसंबर को अजय पाठक, उनकी पत्नी स्नेहा पाठक, बेटी वसुंधरा के शव खून से लथपथ मकान से बरामद हुए थे। जबकि अजय पाठक की कार और बेटे भागवत का शव देर रात पुलिस ने पानीपत से जली हालत में बरामद किया था। हत्यारोपी हिमांशु सैनी ने पाठक के 10 वर्षीय बेटे भागवत की हत्या गला दबाकर हत्या की थी।

[MORE_ADVERTISE1]
[MORE_ADVERTISE2]

1 जनवरी को हिमांशु की गिरफ्तारी के समय हत्या में प्रयुक्त एक तलवार, चाकू बरामद किया गया था। जिसके बाद पुलिस ने हत्यारोपी को 4 दिन पहले शनिवार को पुलिस कस्टडी रिमांड पर लेकर पूछताछ की थी। जिसमें एसआईटी टीम द्वारा आरोपी से पूछताछ में पता चला कि पाठक परिवार की हत्या करने के बाद आरोपी ने अलमारी खोलकर उसमें रखी नकदी और गहने लूटे थे।

यह भी पढ़ें: यूपी के देसी छोरे ने कर दिखाया कमाल, बॉडी बिल्डिंग में हासिल किया पहला स्थान, देखें वीडियो

हत्यारोपी हिमांशु सैनी की निशानदेही पर पुलिस ने दिल्ली के संत नगर कॉलोनी बुराड़ी क्षेत्र में किराए पर लिए गए कमरे से 2 लाख 893 रुपए की नकदी और भारी मात्रा में सोने चांदी के गहने तथा खून से सना एक खंजर बरामद किया था। बरामद सामान की कीमत करीब 50 लाख रुपए है। एसपी ने इस मामले में बताया कि हत्यारोपी से एसआईटी की पूछताछ में इस कांड में अन्य कोई व्यक्ति शामिल होना नहीं पाया गया है। आरोपी ने जो बातें बताई हैं उनका क्रॉस वेरिफिकेशन चल रहा है। हर दृष्टिकोण से एसआईटी द्वारा पूछताछ की जा रहीं हैं।

[MORE_ADVERTISE3]