स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Video: CAA का विरोध करने पर गिरफ्तार किए गए लोगों का निशुल्क केस लड़ेगा वकीलों का पैनल

lokesh verma

Publish: Jan 16, 2020 17:14 PM | Updated: Jan 16, 2020 17:14 PM

Shamli

Highlights
- सीएए के विरोध के दौरान गिरफ्तार लोगों की कानूनी लड़ाई लड़ने के लिए अधिवक्ताओं का पैनल गठित
- अधिवक्ताओं ने गठित किया 'शामली लीगल एंड एड्वोकेट्स पैनल फॉर एंटी सीएए, एनआरसी प्रोटेस्टर'
- अरुण शर्मा को बनाया गया पैनल में जॉइंट एडवोकेट

शामली. जिले में सीएए (CAA) व एनआरसी (NRC) के खिलाफ प्रदर्शनों को लेकर गिरफ्तार व्यक्तियों की कानूनी मदद के लिए कैराना (Kairana) में अधिवक्ताओं का लीगल पैनल गठित कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि अधिवक्ताओं का यह पैनल सीएए के विरोध में गिरफ्तार किए गए लोगों का निशुल्क केस लड़ेगा।

यह भी पढ़ें- हरिओम पंवार बोले- मनमोहन सिंह और ममता बनर्जी ने किया था सीएए का समर्थन, देखें Video

ज्ञात हो कि शामली जिले में पिछले दिनों नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करने को लेकर कुछ लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था, जिनका मामला कोर्ट में विचाराधीन है। इनमें से कुछ एेसे लोग भी हैं, जो अपनी कानूनी लड़ाई लड़ने में असमर्थ हैं। इनकी कानूनी मदद करने के लिए दस अधिवक्ताओं का पैनल गठित किया गया है। पैनल के कंवीनर एडवोकेट नसीम ने बताया कि इस पैनल का नाम 'शामली लीगल एंड एड्वोकेट्स पैनल फॉर एंटी सीएए, एनआरसी प्रोटेस्टर’ रखा गया है। पैनल में जॉइंट एडवोकेट अरुण शर्मा को बनाया गया।

अधिवक्ता नसीम ने बताया कि यह पैनल उन सभी गिरफ्तार व्यक्तियों को कानूनी मदद देगा, जिनको प्रदर्शन के नाम पर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दस अधिवक्ताओं के गठित पैनल में अधिवक्ता बाबू सादिक, सलीम अंसारी, दीपक शर्मा, नफीस अहमद, मोहम्मद मुस्तफा, रविन्द्र, राशिद अली को कंवीनर और अन्य अधिवक्ताओं को सदस्य बनाया गया है। यह सभी उन लोगों को निःशुल्क कानूनी लड़ाई लड़ेंगे।

यह भी पढ़ें- Video: UP के इस शहर में नहीं पहुंचे सीएम योगी के आदेश, 'तानाजी' पर वसूला जा रहा टैक्स

[MORE_ADVERTISE1]