स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मदरसे से पकड़े गए म्यांमार के 4 युवकों ने रिमांड के दौरान खोले ऐसे राज, पुलिस भी है हैरान

Rahul Chauhan

Publish: Aug 08, 2019 18:34 PM | Updated: Aug 08, 2019 18:34 PM

Shamli

खबर की मुख्य बातें-

-उन्हें सात की रिमांड पर रखा गया है जो कि शुक्रवार तक चलेगी

-रिमांड के पांचवे दिन चारों युवकों ने पुलिस के सामने कई राज खोले

-बताया जा रहा है कि ये बार-बार बयान बदल रहे हैं

शामली। त्योहारों को लेकर पुलिस पूरी सतर्कता बरत रही है। इसी कड़ी में शामली पुलिस ने पांच दिन पहले एक मदरसे से चार युवकों को पकड़ा था। जो कि म्यांमार के रहने वाले बताए जा रहे हैं। उन्हें सात की रिमांड पर रखा गया है जो कि शुक्रवार तक चलेगी। रिमांड के पांचवे दिन चारों युवकों ने पुलिस के सामने कई राज खोले।

यह भी पढ़ें: रक्षाबंधन पर बहनों के लिए योगी सरकार का तोहफा, हर दस मिनट में मिलेगी बस

दरअसल, शामली के जलालाबाद में अवैध रूप से रह रहे म्यांमार निवासी अब्दुल माजिद, नौमान, फुरकान व रिजवान को एटीएस और पुलिस ने पकड़ा था। जिनसे अब एटीएस व एलआइयू की टीम चार दिन से पूछताछ कर रही है। बताया जा रहा है कि ये चारों बार-बार अपने बयान बदल रहे हैं।

सूत्रों की मानें तो माजिद ने पूछताछ में बताया कि अपने मामा से उसने दो किस्तों में 6.40 लाख रुपये मंगवाए जिसने वह जलालाबाद में मकान खरीदता। इनमें 4.60 लाख रुपये एक स्थानीय व्यक्ति के बैंक खाते में मंगाए और कुछ समय बाद इसी व्यक्ति के खाते में एक लाख रुपये फिर मंगाए। इसके बाद दूसरी किस्त के 70 हजार रुपये सहारनपुर बुलाकर उसे मामा ने दिए थे।

यह भी पढ़ें : ऑक्सीजन सिलेंडर प्लांट पर हो रहा था ये काम, ड्रग इंस्पेक्टर ने मारा छापा तो खुला ये राज, देखें वीडियो

इसके अलावा यह भी बताया जा रहा है कि माजिद के कई अन्य देशों में रहने की जानकारी पुलिस को मिली है। वह 2013 से 2018 तक थाईलैंड में रहा है और यहां पर उसने अपने पिता के मित्र के नाम से एक मकान भी खरीदा था।